क्या सरकारी नौकरी पाने के लिए कोरोना काल के दौरान पास हुए 10वीं और 12वीं के रिजल्ट मान्य नहीं होंगे?? जानिए क्या है सच

कोरोना काल के दौरान पिछले साल की तरह इस बार भी 10वीं और 12वीं के बच्चों को बिना पेपर के ही पास कर दिया गया। जिसके परिणाम भी घोषित हो चुके है। लेकिन इसी बीच इन दिनों सोशल मीडिया पर एक जमकर अफवाह उड़ाई जा रही है की यूपी में योगी आदित्‍यनाथ की सरकार ने नया फरमान निकाला है। जिसके तहत अब 10वीं व 12वीं में प्रमोट होने वाले स्‍टूडेंट्स को सरकारी नौकरी के लिए विशेष परीक्षा देना होगा। 

जानिए क्या है वायरल हो रहा दावा और इससे जुड़ी सच्चाई…

वायरल हो रहा दावा
एक फेसबुक यूजर ने 6 अगस्‍त को एक पोस्‍ट अपलोड किया जिसमे लिखा गया की 10 वीं 12 वीं में प्रमोट होने वाले स्‍टूडेंट्स को सरकारी नौकरी के लिए देना होगा स्‍पेशन एग्‍जाम। इसके आगे लिखा गया, आदेश के मुताबिक कोविड के दौरान बिना परीक्षा दिए अगली क्‍लास में प्रमोट होने वाले 10वीं और 12वीं के स्‍टूडेंट्स की मार्कशीट सरकारी नौकरियों के लिए मान्‍य नहीं है। खबर के स्‍क्रीनशॉट में योगी आदित्‍यनाथ की तस्‍वीर अलग से चिपकाई गई। इससे यह बताने का प्रयास किया गया कि खबर यूपी सरकार से जुड़ी हुई है। 

वायरल दावे का सच
हमने सबसे पहले वायरल पोस्‍ट में लिखा, “10वीं, 12वीं में प्रमोट होने वाले स्टूडेंट्स को देना होगा” स्पेशल एग्जाम को गूगल में सर्च करना शुरू किया। शुरुआती सर्च में हमें न्‍यूज 18 की वेबसाइट पर ओरिजनल खबर मिली। इस खबर में इसे असम की बताया गया। जांच में हमें पता चला कि असम की पुरानी खबर के स्‍क्रीनशॉट पर योगी आदित्‍यनाथ की तस्‍वीर लगाकर वायरल किया जा रहा है।

हालांकि असम हायर सेकंडरी एजुकेशन काउंसिल के जनसंपर्क अधिकारी लुइट पाठक ने भी साफ किया कि असम में फिलहाल ऐसा कोई आदेश लागू नहीं है। वहीं यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने बताया कि, “वायरल पोस्‍ट का यूपी से कोई संबंध नहीं है। यहां ऐसा कोई भी आदेश नहीं निकाला गया है।”
गुवाहाटी के ईस्टमोजो के पत्रकार नीलुत्पल तिमसीना के अनुसार, असम में सरकारी नौकरियों के लिए वायरल पोस्‍ट जैसी बात हुई थी। लेकिन विरोध के बाद सरकार की ओर से इसे आगे नहीं बढ़ाते हुए कैंसल कर दिया।

निष्कर्ष: हमारी जांच में वायरल पोस्‍ट पूरी तरीके से फर्जी साबित हुई। यूपी सरकार की ओर से ऐसा कोई आदेश नहीं निकाला गया है। असम सरकार से जुड़ी एक पुरानी खबर को कुछ लोग यूपी सरकार से जोड़कर वायरल कर रहे हैं। हालांकि, बाद में असम सरकार ने भी अपना फैसला वापस ले लिया।

Claim Review : यूपी सरकार का फैसलाClaimed By : फेसबुक यूजर राम अवतारFact Check : झूठ

किसी सूचना या अफवाह पर संदेह हो तो हमसे संपर्क करें
अगर आपको ऐसी किसी भी मैसेज या अफवाह पर संदेह है जिसका असर समाज, देश और आप पर हो सकता है तो हमें बताएं। आप हमें नीचे दिए गए किसी भी माध्यम के जरिए जानकारी भेज सकते हैं।

वॅाट्सऐप नंबर/ टेलीग्राम नंबर-  +919810553618  ईमेल- V3newsindia@gmail.com आप हमसे हमारे ईमेल आईडी V3newsindia@gmail.com या फिर वॅाट्सऐप / टेलीग्राम नंबर +919810553618 के जरिए संपर्क कर सकते हैं। किसी भी सुझाव या शिकायत के लिए V3newsindia@gmail.com पर ईमेल भेजें।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending