समीर वानखेड़े के बचाव में उतरी पत्नी, सीएम उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिख, कहा – बाला साहेब ठाकरे होते तो ऐसा नहीं होता

विवादो से चौतरफा घिरे एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े के बचाव में पत्नी क्रांति रेडकर उतरी। उन्होंने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को चिट्ठी लिखकर मराठी अस्मिता का मुद्दा उठाते हुए कहा है कि, “शिवसेना के राज में एक महिला की गरिमा से खिलवाड़ हो रहा है, उसके साथ मजाक हो रहा है। आज बाला साहेब ठाकरे होते तो निश्चित ही ये उन्हें मंजूर नहीं होता।” इसके साथ ही एक्ट्रेस और वानखेडे की पत्नी क्रांति रेडकर ने सीएम उद्धव ठाकरे से मिलने को अपील की है।

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को लिखी चिट्ठी में क्रांति रेडकर कहती है, “माननीय उद्धव जी, मराठी आदमी के न्याय हक के लिए लड़ने वाली शिवसेना को बचपन से देखते हुए मैं एक मराठी लड़की बड़ी हुई। बाला साहेब ठाकरे और छत्रपति शिवाजी से सीखा कि किसी पर अन्याय करो मत, खुद पर अन्याय सहो मत। उसी के मद्देनजर आज मैं अकेले मेरे निजी जीवन पर हमला करने वाले लोगों के खिलाफ मजबूती से खड़ी हूं और लड़ रही हूं।”

क्रांति रेडकर ने आगे लिखा, “सोशल मीडिया पर मौजूद लोग सिर्फ मजा देख रहे हैं। मैं एक कलाकार हूं, राजनीति नहीं समझती और मुझे उसमें पड़ना भी नहीं है, हमारा कुछ भी संबंध न होते हुए रोज सुबह हमारी इज्जत उतारी जाती है।” क्रांति बोली, शिवसेना के राज में एक महिला की गरिमा के साथ खिलवाड़ हो रहा है, मजाक हो रहा है। आज बाला साहेब ठाकरे होते तो निश्चित ही ये उन्हें मंजूर नहीं होता।

उन्होंने आगे कहा, “एक महिला और उसके परिवार पर निजी हमले…ये कितने निचले स्तर की राजनीति है। ये उनके विचारों से रोजाना हम तक पहुंच रही है।आज वो (बाला साहेब) नहीं हैं, पर आप हैं, उनकी परछाईं हम आपमें देखते हैं। आप हमारा नेतृत्व कर रहे हैं और मुझे आप पर पूरा विश्वास है कि आप कभी मुझ पर और मेरे परिवार पर अन्याय नहीं होने देंगे। पूरा विश्वास है इसलिए एक मराठी होने के नाते आज आपकी तरफ अपेक्षा से देख रही हूं। आपसे विनती है कि न्याय करें।”

क्रांति ने उद्धव को लिखी चिट्ठी जारी करने के बाद कहा, “हम बस मुख्यमंत्री से मिलकर सारी सच्चाई सामने रखना चाहते है। मैंने सीएम के निजी सचिव मिलिंद नार्वेकर से बात कर वक्त मांगा है। अब देखते हैं कि सीएम कब का समय देते हैं। हम उनको बताएंगे कि कैसे एक कैबिनेट मंत्री लगातार हमारे परिवार पर हमला कर रहे हैं और हमारी निजी जानकारी पब्लिक डोमेन में साझा कर रहे हैं।”

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending