पश्चिम बंगाल में इस बार किसकी गलेगी दाल ?

पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव में इस बार सीधा मुकाबला टीएमसी और भाजपा के बीच दिख रहा है. एक और जहां टीएमसी फिर से पश्चिम बंगाल की सत्ता में वापसी की बात कह रही है तो वहीं भाजपा का दावा है कि इस बार बंगाल में कमल खिलेगा और वो 200 से अधिक सीटों पर जीत हासिल करेगी.

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कल व्हीलचेयर पर ही कोलकाता में रोड शो किया और ये संदेश देने की कोशिश की कि वो दर्द में है पर जनता का ख्याल रखना उनकी प्राथमिकता है. तो वहीं कल ही गृहमंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल के खड़गपुर में रोड शो किया जिसमें भारी जनसैलाब देखने को मिला.

पश्चिम बंगाल में इस बार उंट किस करवट बैठेगा ये कहना फिहाल कठिन है पर ये जरूर कहा जा सकता है कि टीएमसी के लिए इस बार का विधानसभा चुनाव आसान नहीं होने वाला है. पश्चिम बंगाल में भाजपा का कद पहले के मुकाबले काफी बढ़ गया है.  टीएमसी और भाजपा दोनों एकदूसरे को इनदिनों जमकर घेर रहे है. बयानबाजी चरम पर है.

भाजपा ने इसी बीच पश्चिम बंगाल चुनाव के मद्देनजर अपने उम्मीदवारों की चौथी सूची जारी कर दी है जिसमें चार सांसदों को भी टिकट दिया गया है. दोनों ही राजनीतिक पार्टियों के चुनावी सभा और रोड शो में भारी जनसैलाब उमड़ रहा है पर क्या ये जनसैलाब वोट में परिवर्तित हो पाएगा, ये बड़ा सवाल है.

टीएमसी ने इस बार पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में 50 महिलाओं को टिकट दिया है. इस फैसले से महिला वोट को साधने की टीएसी की रणनीति साफ दिखाई देती है.

ऐसा नहीं है कि बंगाल में सिर्फ भाजपा और टीएमसी ही चुनावी तैयारियों में लगी हुई है. अन्य दल भी चुनाव की तैयारी कर रहे है. कांग्रेस , वाम दल और ISF का गठबंधन भी अपनी चुनावी तैयारियों में लगा हुआ है. अब इस बार पश्चिम बंगाल चुनाव में होगा क्या ये तो समय ही बताएगा.

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending