यूपी पंचायती चुनाव : नेताओं ने की सभी हदें पार, टॉफी का लालच देकर बच्चों से कराया चुनाव प्रचार

बंगाल चुनाव के बाद अब उत्तर प्रदेश में पंचायती चुनावों का शोर शुरू हो चुका है. यह चुनाव यूपी के 75 जिलों में चार चरणों में होना है. 15 अप्रैल को पहले चरण का चुनाव समाप्त होने के बाद अभी तीन चरणों का मतदान शेष है. दूसरे चरण का मतदान 19 अप्रैल तीसरे चरण का 26 अप्रैल और 29 अप्रैल को चौथे चरण का मतदान होना है.

पंचायत चुनाव में प्रधान प्रत्याशियों द्वारा जनता को कई तरह से लुभाने की कोशिश की जा रही है. कहीं शराब बांटी जा रही है तो कहीं समोसे और जलेबियां.इन सब बातों के बीच उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी से एक बेहद शर्मनाक और लापरवाही भरी खबर सामने आई है.
यहां के एक ग्राम प्रधान को जीतने का जुनून इस कदर छाया कि वह, पंचायत के छोटे-छोटे बच्चों को टॉफी का लालच देकर कोरोना संक्रमण के ऐसे हालातों में प्रचार-प्रसार करवा कर रहें है. जिसे देखकर हर कोई दंग रह गया.जानकारी मिलने के बाद जिला प्रशासन ने पूरे मामले को संज्ञान में लिया है और जांच कर कार्रवाई की बात कही है.

उम्मीदवार ने किया नियमों का उन्लंघन
आपको बता दें कि यह मामला लखीमपुर खीरी के मैलानी थाना क्षेत्र के सलामत नगर ग्राम पंचायत का है जहां एक प्रत्याशी गुरमीत कौर पर प्रधानी चुनाव जीतने का जुनून इतना सवार हुआ की बच्चों को चुनाव प्रचार की जिम्मेदारी सौंप दी. यह प्रत्याशी मासूम बच्चों को टॉफी का लालच देकर गांव गांव रैली निकलवा कर चुनाव प्रचार प्रसार करवा रहा है. 

लोगों ने की प्रशासन से कार्यवाही की मांग
चुनाव के दौरान उम्मीदवारों द्वारा कोरोना संक्रमण के बचाव के लिए बनाए गए नियमों का उल्लंघन किया जा रहा है लेकिन प्रशासन मूकदर्शक बना हुआ है. जनता का कहना है कि जहां एक ओर पूरे देश में कोरोना संक्रमण से लोगों की मौतें हो रही हैं और वहीं दूसरी ओर उम्मीदवार इस तरह के शर्मनाक कारनामे कर रहे हैं. प्रदेश सरकार को इस तरह की लापरवाही पर कड़ी कार्यवाही करनी चाहिए.

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending