यूपी के 61 जिलों में आज से शुरू हुई अनलॉक प्रक्रिया, जानिए सरकार की नई गाइडलाइन

कोरोना संक्रमण की रफ्तार पर लगाम के बाद उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने मंगलवार से राज्य के 61 जिले अनलॉक करने का फैसला किया है। सरकार की नई गाइडलाइन के अनुसार 600 से अधिक कोरोना केस वाले जिलों को छोड़कर अन्य जिलों को कोरोना कर्फ्यू में ढील दी गई है। आदेश में कहा है कि निषेध क्षेत्र के बाहर एक जून से सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक गतिविधियां संचालित होंगी। शनिवार और रविवार साप्ताहिक बंदी रहेगा। कंटेनमेंट जोन में सभी गतिविधियों पर रोक जारी रहेगी। इसके साथ ही रात्रिकालीन कर्फ्यू शाम के 7 बजे से अगले दिन सुबह 7 बजे तक लागू रहेगा।
मुख्‍य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी ने गतिविधियों को प्रारंभ करने के लिए शर्तों के साथ आदेश जारी किया है। आदेश में कहा गया कि यदि किसी जिले में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की कुल संख्या 600 से अधिक हो जायेगी तो उस जिले में कोरोना कर्फ्यू में छूट स्वत: समाप्त हो जाएगी। आदेश के मुताबिक कोरोना के अभियान से जुड़े फ्रंट लाइन सरकारी विभागों में पूर्ण उपस्थिति रहेगी लेकिन शेष सरकारी कार्यालय अधिकतम 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ खुलेंगे एवं जो 50 प्रतिशत कर्मचारी उपस्थित रहेंगे उनको चक्रानुक्रम पद्धति से बुलाया जाएगा। सभी कार्यालय में कोविड हेल्‍प डेस्‍क स्थापित करना अनिवार्य किया गया है।

इन 20 जिलों में रहेगी सख्ती
मेरठ, लखनऊ, सहारनपुर, वाराणसी, गाजियाबाद, गोरखपुर, मुजफ्फरनगर, बरेली, गौतम बुद्ध नगर, बुलंदशहर, झांसी, प्रयागराज, लखीमपुर खीरी, सोनभद्र, जौनपुर, बागपत, मुरादाबाद, गाजीपुर, बिजनौर, देवरिया।

सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन
• कोरोना प्रबंधन से जुड़े फ्रंटलाइन सरकारी विभागों में पूर्ण उपस्थिति रहेगी।
• बाकी कार्यालय में अधिकतम 50% उपस्थिति और रोटेशन की व्यवस्था।
• निजी कंपनियों के कार्यालय कोविड प्रोटोकॉल के साथ खुलेंगे, वर्क फ्रॉम होम को प्रोत्साहित करना होगा।
• औद्योगिक संस्थान, ट्रांसपोर्ट, लॉजिस्टिक कंपनियों के कार्यालय और वेयर हाउस खुलेंगे।
• बैंक, बीमा और अन्य वित्तीय सेवा प्रदाता कंपनियों की शाखाएं और कार्यालय खुलेंगे।
• अंतिम संस्कार में सिर्फ 20 लोग ही शामिल हो सकते हैं।
• ऑटो रिक्शा, ई-रिक्शा में चालक समेत तीन और चार पहिया वाहनों में केवल 4 लोग बैठ सकेंगे।
• रेलवे स्टेशन, बस स्टेशन और एयरपोर्ट पर कोविड प्रोटोकॉल के साथ एंटीजन जांच की सुविधा देनी होगी।
• दोपहिया वाहन सीट क्षमता के अनुसार चलाने की अनुमति होगी, मास्क, हेल्मेट पहनना अनिवार्य।
• परिवहन निगम की बसें सीट क्षमता के अनुसार प्रदेश के अंदर ही चलेंगी, स्टैंडिंग की अनुमति नहीं।
• रेस्तरां से होम डिलिवरी की अनुमति, हाइवे और एक्सप्रेस-वे के किनारे ढाबे, ठेले, खोमचे खुलेंगे।
• अंडे, मांस, मछली की दुकानें पर्याप्त साफ-सफाई के साथ खुल सकेंगी, खुले में बिक्री नहीं होगी।
• सब्जी मंडिया खुल सकेंगी पर घनी आबादी की मंडियां खुले स्थान पर जिला प्रशासन खुलवाएगा।
• हर सब्जी मंडी में कोरोना हेल्प डेस्क खोली जाएगीये बंदिशें रहेंगी।
• शादी समारोह में सिर्फ 25 लोग ही कोरोना गाइडलाइन का पालन करते हुए शामिल हो सकते हैं।
• कोचिंग, सिनेमा, स्विमिंग पूल, बार, शापिंग मॉल, स्कूल, कॉलेज और अन्य शिक्षण संस्थानों में पढ़ाई नहीं।
• माध्यमिक, उच्च शिक्षण संस्थाओं, कोचिंगों में ऑनलाइन पढ़ाई विभागीय आदेश के अनुरूप होगी।
• बेसिक, माध्यमिक, उच्च शिक्षा के शिक्षक-कर्मचारी प्रशासनिक काम के लिए विद्यालय आ सकेंगे।
• कंटेनमेंट जोन को छोड़कर शेष स्थानों और क्षेत्रों में धर्मस्थलों के अंदर एक बार में एक स्थान पर 5 से अधिक श्रद्धालुओं के एकत्रित होने पर प्रतिबंध रहेगा। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending