विश्व जनसंख्या दिवस पर यूएन ने जारी की रिपोर्ट, भारत की आबादी को लेकर की गई बड़ी भविष्यवाणी

आज विश्व जनसंख्या दिवस है. भारत सहित पूरे विश्व में 11 जुलाई को जनसंख्या दिवस के तौर पर मनाया जाता है. जनसंख्या दिवस के मौके पर संयुक्त राष्ट्र द्वारा जारी रिपोर्ट में चौंकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं. यूएम ने अपनी रिपोर्ट में अनुमान लगाया है कि साल 2023 में भारत दुनिया की सबसे बड़ी आबादी वाला देश बन जाएगा. अगर वर्तमान की करे तो वर्तमान में चीन दुनिया की सबसे बड़ी आबादी वाला देश है लेकिन यूएन की रिपोर्ट कहती है कि साल 2023 में भारत चीन को जनसंख्या के मामले में पीछे छोड़ आगे बढ़ जाएगा.

संयुक्त राष्ट्र द्वारा जारी रिपोर्ट में कहा गया है कि 2022 के मध्य तक दुनिया की आबादी 8 अरब तक पहुंच जाएगी.  साथ ही 2023 में विश्व की आबादी 8. 5 अरब और 2050 तक 9 पॉइंट 7 अरब तक पहुंच जाएगी. यूएन के अनुमान के मुताबिक 2050 के आगे की करें तो यूएन की रिपोर्ट में इस बात का अनुमान लगाया गया है कि 2080 तक पूरी दुनिया की आबादी 10. 4 अरब के करीब करीब पहुंच सकती है. विश्व जनसंख्या दिवस पर हर बार की तरह इस बार भी जनसंख्या वृद्धि को लेकर चर्चा जारी है. जिस प्रकार से भारत एवं अन्य देशों की जनसंख्या बढ़ रही है उसने कई प्रकार के संकटों को जन्म दे दिया है.

बढ़ती जनसंख्या के कारण खाद्य उत्पादन से लेकर अन्य कई समस्याएं सामने आ रही हैं. बात अगर भारत की करें तो भारत की आबादी सवा सौ करीब करोड़ के करीब है. यूएन की रिपोर्ट कहती है कि 2022 में भारत की आबादी 1412 अरब होगी जबकि चीन की आबादी 1426. वहीं 2023 में भारत के दुनिया का सबसे बड़ी आवादी वाला देश बनने का अनुमान संयुक्त राष्ट्र द्वारा अपनी रिपोर्ट में लगाया गया है. इसके साथ ही संयुक्त राष्ट्र ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि इस साल धरती पर 8अरबवें इंसान का जन्म होने वाला है.

AFdZucrpW1iIcXKBd WYtgA0ZlBwcZxVxXHLW4v1m3cJ=s40 pReplyForward

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending