सांस फूलने की दिक्कत होने पर आजमाएं ये आसान घरेलु उपाय, फौरन मिलेगा फायदा

शरीर सही ढंग से काम करता रहे इसके लिए ऑक्सीजन सबसे जा जरूरी होता है। बॉडी में ऑक्सीजन की जरा सी कमी हो जाने पर गंभीर स्थिति पैदा हो जाती है। ऐसे में तेजी से अंग फेल होने शुरू हो जाते हैं और गंभीर स्थिति में रोगी की मृत्यु हो सकती है। इन्हीं सारी बातों को ध्यान में रखते हुए डॉक्टर, सांस से संबंधित सभी बीमारियों को गंभीरता से लेने पर जोर देते हैं। सांस फूलना एक बेहद खतरनाक समस्या है। सांस फूलने की दिक्कत सीढ़ियां चढ़ना, ठंड का मौसम, तमाम स्वास्थ्य स्थितियां और अधिक वजन होने के कारण भी लोगों को सांस फूलने की समस्या हो सकती है।

हृदय रोगों से जूझ रहे लोगों में सांस की परेशानी होना बेहद आम बात है। लेकिन इस परेशानी को नजरअंदाज करना कभी-कभी बहुत भारी भी पड़ सकता है। ऐसे में इसे हल्के में नहीं लेना चाहिए। यदि अक्सर आपको सांस की परेशानी को झेलना पड़ रहा है  इस बारे में तुरंत अपने डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए। आज हम आपको बताने वाले है कुछ आसान से उपायों के बारे में जानते हैं जिससे सांस फूलने की परेशानी में काफी हद तक आराम मिल सकता है। 

1.करें ब्लैक कॉफी का सेवन

ब्लैक कॉफी का सेवन वायु मार्ग में मांसपेशियों की जकड़न को कम करने में काफी फायदेमंद हो सकता है, ऐसे लोग जिन्हें अस्थमा की परेशानी की वजह से सांस फूलने की दिक्कतों का अनुभव होता है, तो इन लोगों को ब्लैक कॉफी पीने से काफी लाभ मिल सकता है। नियत मात्रा में ब्लैक कॉफी का सेवन फेफड़ों के कामकाज में सुधार करने के साथ सांस की तकलीफ को कम करने में काफी सहायक हो सकता है।

2.दीवार के सहारे खड़े होना

ऐसे लोग जिन्हें सांस फूलने की समस्या से जूझना पड़ रहा है उन्हें दीवार का सहारा लेकर खड़े होने से भी लाभ मिल सकता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार सांस फूलने पर तुरंत दीवार के सहारे खड़े हो जाएं और अपनी पीठ उस पर टिका दें। अपने कंधों को आराम दें और थोड़ा आगे झुकें। ऐसा करने से सांस की तकलीफ में कुछ समय के लिए राहत मिल जाती है।

3. लिप ब्रीदिंग करे

सांस संबंधी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए गहरी सांस वाले अभ्यास काफी मददगार हो सकते हैं। ऐसे में पर्स्ड लिप ब्रीदिंग अभ्यास को सबसे ज्यादा फायदेमंद माना जाता है। इसको करने के लिए सबसे पहले पीठ को सीधा रखते हुए फर्श पर पैरों को आपस में मोड़कर बैठ जाएं। अब मुंह से गहरी सांस लें और 4-5 सेकंड तक प्रतीक्षा करें। अपने होठों को सिकोड़ते हुए धीरे-धीरे सांस छोड़ें। इस अभ्यास को 10-15 बार दोहरा सकते हैं। ऐसा करने से सांस की तकलीफ में काफी राहत मिल सकती है।

4. अदरक वाली चाय

मन को शांत करने में अदरक की चाय सबसे ज्यादा लाभकारी मानी जाती है। इसके साथ ही यह श्वसन संक्रमण को कम करने में काफी मददगार साबित होती है, जो सांस फूलने का मुख्य कारण हो सकता है। बता दें, अदरक में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण मौजूद होने से ये फेफड़ों में सूजन को कम करता है। इसके अलावा कई बार तनाव की वजह से भी सांस फूलने की दिक्कत पैदा हो जाती है, ऐसी स्थिति में अदरक की चाय पीने से काफी लाभ मिलता है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending