ट्रंप ने बाइडेन पर साधा निशाना, कहा- अगर मै राष्ट्रपति होता तो ऐसे हालात कभी पैदा नही होते, हमारे सैनिक इस तरह नहीं मारे जाते

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एक बार बाइडेन पर तीखा हमला बोला है। शुक्रवार को अपने देशवासियों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अगर वह अमेरिका के वर्तमान राष्ट्रपति होते तो काबुल पर हमले नहीं होते। उन्होंने कहा कि एक राष्ट्र के तौर पर अमेरिका अपने बहादुर सिपाहियों की मौत पर शोकग्रस्त है।

अफगानिस्तान में हुआ आतंकी हमला बहुत ही बर्बर है। उन्होंने इन बहादुर अमेरिकी सिपाहियों ने खुद को अपने फर्ज पर कुर्बान कर दिया। ट्रंप ने कहा कि इन सिपाहियों ने अपने देशवासियों को बचाने के लिए अपनी जिंदगी दांव पर लगा दी। उन्होंने अपनी जान दे देना कुबूल किया, लेकिन देशवासियों पर कोई आंच नहीं आने दी।

अमेरिकी फौजियों को याद करते हुए ट्रंप ने कहा कि वह एक अमेरिकी हीरो की तरह शहीद हुए और देश उन्हें हमेशा याद रखेगा। गौरतलब है कि अफगानिस्तान के हालात पर बोलते हुए ट्रंप पहले भी बाइडेन पर निशाना साध चुके हैं। तब उन्होंने पूछा था, ‘मुझे मिस कर रहे हो।’

बता दें की गुरुवार को काबुल में हुए चार बम धमाकों में कम से कम 103 लोगों की मौत हो गई। इस दौरान 143 लोग घायल भी हो गए। जिसने 13 अमेरिकी सैनिक, एक यूएस मरीन और एक डॉक्टर शामिल था। इसके अलावा 18 अन्य सेवा सदस्य घायल भी हो गए। इस्लामिक स्टेट ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। इस आतंकी संगठन ने उस सुसाइड बॉम्बर की तस्वीर भी जारी की थी, जिसने इस धमाके को अंजाम दिया था। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending