कमजोर याददाश्त से है परेशान ? अपनाएं ये तरीके होगा फायदा

उम्र के बढ़ने के साथ ही भूलने की बीमारी भी अधिक होने लगती है। बार-बार भूलने की समस्या से लोगों को आए दिन कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कमजोर याददाश्त का असर ना केवल हमारे जीवन पर पड़ता है बल्कि इससे कई चीजों का संतुलन भी बिगड़ जाता है। याददाश्त कमजोर होने का एक कारण ये भी है कि आजकल हम कंप्यूटर और इंटरनेट पर कुछ ज्यादा ही निर्भर हो गए हैं। किसी भी चीज को याद रखने के लिए हम आजकल कई ऑप्शंस का प्रयोग करते हैं। 

बात अगर बार-बार भूलने की समस्या की करें तो कई बार इसके कारण जेनेटिक भी होते हैं। हाल ही में किए गए एक शोध के मुताबिक वैज्ञानिकों ने पाया है कि अगर किसी व्यक्ति की याददाश्त कमजोर हो तो उसे सही खानपान और हेल्थी लाइफस्टाइल की मदद से ठीक किया जा सकता है। भूलने की समस्या कई परेशानियां पैदा करती है जिसे ठीक किया जाना काफी जरूरी है। आज हम आपको याददाश्त को नेचुरल तरीके से ठीक और मजबूत करने के तरीकों के बारे में बताएंगे। तो आइए जानते हैं।

1. फिश ऑयल सप्लीमेंट – अगर आप अपनी याददाश्त को मजबूत करना चाहते हैं तो आपको फिश ऑयल सप्लीमेंट का सेवन जरूर करना चाहिए।दरअसल, फिश ऑयल में भरपूर मात्रा में ओम ओमेगा 3 फैटी एसिड पाया जाता है जो याददाश्त को मजबूत करने का कार्य करता है। मछली का सेवन याददाश्त को मजबूत करने के लिए किया जाता रहा है।

2. मेडिटेशन – ध्यान करने से याददाश्त मजबूत होती है। मेडिटेशन का सबसे बड़ा फायदा ये है कि इससे आप स्ट्रेस फ्री होते हैं जिससे मेमोरी पावर काफी अच्छी बनती है। सुबह के समय शांत वातावरण में ध्यान लगाएं इससे आपकी मेमोरी मजबूत होगी।

3. वजन रखें नियंत्रित : शरीर के वजन को नियंत्रित रखना याददाश्त को मजबूत करने का काम करता है। शरीर का मास इंडेक्स अगर सही रहता है तो इससे याददाश्त मजबूत होती है। ऐसे में हमारी कोशिश शरीर के वजन को कंट्रोल में रखने की होनी चाहिए।

4. खेले ब्रेन गेम – याददाश्त को मजबूत करने के लिए और ब्रेन को एक्टिव करने के लिए ब्रेन गेम की मदद ली जा सकती है। आप चेस जैसे कई ब्रेन गेम खेल सकते हैं, इससे दिमाग एक्टिव रहता है और मेमोरी पावर मजबूत होती है।

5. भरपूर नींद – रात के समय भरपूर नींद लेना आपके मेमोरी पावर को मजबूत बना सकता है। दरअसल, 8 घंटे की नींद मानसिक तनाव को दूर करती है। नींद पूरा होने पर जब लोग सुबह जब उठते हैं तो दिनभर तरोताजा महसूस करते हैं और निरंतर भरपूर नींद लेने की प्रक्रिया याददाश्त को मजबूत बनाने का काम करती है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending