त्रिपुरा: पुलिस ने ममता बनर्जी के भतीजे के खिलाफ दर्ज की एफआईआर, पुलिस के साथ दुर्व्यवहार करने का लगाया आरोप

पूर्वोत्तर राज्य त्रिपुरा में बीते दिनों हुए हमले को लेकर जारी त्रिपुरा पुलिस ने तृणमूल कांग्रेस यानी टीएमसी सांसदों अभिषेक बनर्जी, डोला सेन और पार्टी के अन्य शीर्ष नेताओं के खिलाफ ‘पुलिस कर्मियों को उनकी ड्यूटी में बाधा डालने’ के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की है।

प्राथमिकी में कहा गया है कि रविवार सुबह 14 टीएमसी नेताओं और कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी के बाद मंत्री ब्रत्य बसु और सांसद डोला सेन के नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ताओं का एक समूह खोवाई थाने पहुंचा और फिर उसके तुरंत बाद ही अभिषेक बनर्जी भी थाने पहुंच गए।

जहां उन्होंने एडिशनल एसपी और अन्य पुलिस कर्मियों के साथ दुर्व्यवहार किया और उन पर चिल्लाया भी। जिस पर त्रिपुरा पुलिस ने खोवाई के एडिशनल एसपी और एसडीपीओ के साथ दुर्व्यवहार करने और पुलिस कर्मियों को ड्यूटी करने से रोकने के लिए मामला दर्ज किया है।

बता दें बंगाल में विधानसभा चुनाव से पहले और बाद में जो कुछ हुआ, वही अब पूर्वोत्तर राज्य त्रिपुरा में दोहराया जा रहा है। पिछले हफ्ते अभिषेक बनर्जी और टीएमसी कार्यकर्ताओं पर त्रिपुरा में अलग-अलग घटनाओं में हमला किया गया था, जहां पार्टी बीजेपी को हमले का जिम्मेदार बताया था।

तो वहीं बंगाल भाजपा ने आरोप को “निराधार” बताते हुए कहा था कि ममता के तर्क के अनुसार, उन्हें राज्य में चुनाव के बाद की हिंसा और भगवा पार्टी के कार्यकर्ताओं की हत्याओं के लिए कसूरवार ठहराया जाना चाहिए। पश्चिम बंगाल के बाद अब त्रिपुरा तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) और बीजेपी का नया कुरुक्षेत्र बनता नजर आ रहा है। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending