UP के 300 से भी अधिक तहसीलों में होगी हजारों कंप्यूटर ऑपरेटरों की भर्ती, ये रहेगी प्रक्रिया

अगर आप भी सरकारी नौकरी की तलाश में हैं तो आपके लिए अच्छी खबर है. दरअसल, यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार राज्य में 1 हजार से अधिक कंप्यूटर ऑपरेटरों की भर्ती करने जा रही हैं. यूपी के 350 तहसीलों  में इन कंप्यूटर ऑपरेटरों की भर्ती की जाएगी जहां इसके लिए राजस्व परिषद ने इसके लिए दिशा-निर्देश जारी कर दिया है. आपको बता दे कि कंप्यूटर आपरेटरों को जरूरत के आधार पर आउट सोर्सिंग के माध्यम से रखा जाएगा और स्थानीय स्तर पर इसकी व्यवस्था होगी.

मिली जानकारी के मुताबिक श्रेणी एक और दो की तहसीलों में अधिकतम चार और श्रेणी तीन तथा चार की तहसीलों में 2 कंप्यूटर आपरेटर रखे जा सकेंगे तथा इन्हें संविदा के आधार पर रखा जाएगा. बताया गया है कि श्रेणी एक में रोजाना औसतन 300 से अधिक खतौनी की नकल जारी करने वाली तहसीलें आएंगी जबकि श्रेणी 2 में 200 से 300 तथा श्रेणी तीन में 100 से 200 और श्रेणी चार में औसतन 100 से कम नकल जारी करने वाली तहसीलें आएंगी.

साथ ही आपको बता दे कि राजस्व परिषद ने प्रयोक्ता प्रभार के संग्रहण एवं व्यय के सबंध में दिशा-निर्देश जारी कर दिया गया हैं जिसमें तहसील कंप्यूटर केंद्र पर कंप्यूटरीकरण के काम में जरूरत के आधार पर आउटसोर्सिंग पर तकनीकी जनशक्ति सेवा लिए जाने की बात कही गई हैं. साथ ही मंडलायुक्त न्यायालय में कंप्यूटरीकरण के लिए जरूरत के अनुसार आउटसोर्सिंग पर आधारित तकनीकी जनशक्ति सेवा केंद्र होगा.

अब अगर बात करे कि जनशक्ति सेवा क्रय केंद्र खुलने से क्या फायदा होगा तो इससे सबसे बड़ा फायदा ये होगा कि इसके बाद पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। साथ में खतौनी, खसरा, भू-नक्शा, वरासत संबंधी काम आसानी से होंगे. साथ ही इसके अलावा आय, जाति, निवास, और अन्य प्रमाण पत्र बनाने के कार्य में तेजी भी आएगी. गौरतलब है कि यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार लगातार डिजिटलीकरण पर ध्यान फोकस कर रही हैं और डिजिटल इंडिया मुहिम को आगे बढ़ाने में अपना योगदान दे रही हैं. 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending