बड़े काम के हैं ये पत्ते, पीलिया की बीमारी को देखते ही देखते कर देते हैं छूमंतर

पीलिया एक ऐसी बीमारी है जो लोगों को काफी परेशान कर देती है। अगर किसी व्यक्ति को पीलिया हो जाए तो उसकी त्वचा, श्लेष्मा, झिल्ली और आंखों के सफेद भाग पर एक पीलापन सा आ जाता है जो दिखने में भी काफी अजीब सा लगता है। इस बीमारी के हो जाने के बाद लोगों को अपने खानपान का विशेष ध्यान रखना होता है। जैसे कि पीलिया के होने के बाद तली भुनी हुई चीजें, हल्दी इत्यादि नहीं खानी होती है। पीलिया की बीमारी को अक्सर लीवर की समस्याओं से जोड़कर देखा जाता है।

पीलिया की बीमारी कई बार खराब या दूषित जल के सेवन से भी होती है या फिर कई बार अगर अनहेल्दी खाना खाते हैं तो भी पीलिया की बीमारी हो सकती है। इसके अलावा पीलिया होने का मुख्य कारण ये है कि जब लीवर ठीक से काम नहीं कर रहा होता है तो खून में बिलीरुबिन नामक गंदे पदार्थ का निर्माण होने लगता है जिससे नाखून और आंखों के सफेद भाग का पीला होना शुरू हो जाता है। इस लेख में हम आपको आज कुछ पत्तियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि पीलिया के दौरान काफी मदद कर सकती हैं। कहने का मतलब है कि अगर किसी व्यक्ति को पीलिया हो जाए और वह इन पत्तों की मदद से पीलिया की बीमारी से छुटकारा पा सकता है।

1. मूली के पत्ते – मूली के पत्ते पीलिया यानी कि जॉन्डिस की बीमारी को दूर करने का कार्य करते हैं लेकिन जरूरी है कि आप इसे सही तरीके से इस्तेमाल करें। मूली के कुछ पत्तों से छलनी की सहायता से उसका रस निकाल लें। इसके बाद निकाले गए रस का लगभग आधा लीटर रोजाना सेवन करें। 10 दिनों तक आपको इस रस का सेवन करना है। इस प्रकार पीलिया की बीमारी जल्द ही दूर हो जाएगी। 

2. पपीता के पत्ते – सबसे पहले पपीता के कुछ पत्ते से उसका पेस्ट बना लें। इसके बाद इसमें एक चम्मच शहद मिलाएं और इसे लगभग 1 से 2 सप्ताह तक नियमित रूप से खाएं। पीलिया की बीमारी छूमंतर हो जाएगी।

3. करेले का पत्ता – करेले का पत्ता भी पीलिया की बीमारी से छुटकारा दिला सकता है। इसके लिए सबसे पहले 7 से 10 करेले के पत्ते लेकर इसे एक कप पानी में उबालकर कुछ देर के लिए ठंडा होने दे। इसके बाद 10 से 15 धनिया लेकर आधा लीटर पानी में इसे उबाल लें। इसके बाद इसको पहले से तैयार काढ़े के साथ मिलाकर कम से कम 3 दिन तक सेवन करे।

4. अरहर के पत्ते – अरहर के पत्तों से भी पीलिया का इलाज किया जा सकता है। इसके लिए अरहर के कुछ पत्ते लेकर इसे पीसकर रस निकल ले और रोजाना 60 मिलीमीटर प्रतिदिन सेवन करें। इस प्रकार पीलिया की बीमारी दूर होती है।AOh14GjyWbLxj ScMsbQdYdysA2HiV HwSVaJaPoVSp =s40 pReplyForward

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending