पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में नहीं है जॉब की कमी, अच्छी सैलरी पर मिलते हैं यहाँ जॉब ।

पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में आजकल स्टूडेंट्स का रुझान बढ़ा है जिसकी मुख्य वजह इस क्षेत्र में मिलने वाली
आकर्षक सैलेरी है। ऊर्जा के बढ़ते माँगों को देखकर लगता है की आने वाले समय में यह क्षेत्र और भी ज्यादा महत्वपूर्ण
होने वाला है एवं इस क्षेत्र में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। अगर हम वर्तमान समय की बात करें तो भारत में लगभग
16 लाख से अधिक लोग इस क्षेत्र में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से जुड़े हुए हैं। वैसे तो भारत में पेट्रोलियम इंजीनियर
का डिमांड तो है ही साथ ही विदेशों में भी यहां के इंजीनियर काफी कमा रहे हैं।

jobs 1200

अगर आप पेट्रोलियम इंजीनियर बनना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको इंटरमीडिएट करना होगा जिसमें फिजिक्स,
केमिस्ट्री, मैथ्स विषय का होना जरूरी है। इसके बाद पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में बीटेक/बीई, एमटेक, डिप्लोमा जैसे
कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं। अगर आप किसी अच्छे संस्थानों से इसकी पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपको जेईई
या फिर संबंधित संस्थान की प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करना जरूरी है। यदि आप पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में एमटेक
करना चाहते हैं तो आपके पास बीटेक की डिग्री होना जरूरी है

पेट्रोलियम इंजीनियरिंग क्या है?
पेट्रोलियम इंजीनियर का मुख्य काम पेट्रोलियम पदार्थ को धरती के नीचे से सुरक्षित धरातल पर लाना और
पेट्रोलियम भंडार को न्यूनतम नुकसान पहुंचाए बिना उसे उपयोगी बनाना है। इसके अलावा इनका काम पेट्रोलियम
उर्जा के क्षेत्र में नए आविष्कार, प्रयोग और विस्तार करना है।

74806245

क्या है स्कोप
पेट्रोलियम इंडस्ट्री में इंजीनियर के लिए जॉब की कमी नही है। इसकी मुख्य वजह है कि पेट्रोलियम इंजीनियरिंग
काफी कम संस्थानों के द्वारा कराया जाता है जिसके वजह से इस कोर्स को करने वाले स्टूडेंट्स को आसानी से नौकरी
मिल जाती है।

यहां पर आपको कई महत्वपूर्ण पदों पर काम करने का मौका मिलता है जैसे कि प्रोसेस इंजीनियर, जियो साइंस प्रेशर
एक्सपर्ट, टेक्निकल सपोर्ट इंजीनियर, सीनियर पेट्रो फीजिसिस्ट इत्यादि। इससे जुडी कंपनियों की बात करें तो

ऑयल इंडिया लिमिटेड, हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड, हिंदुस्तान ऑयल एक्सप्लोरेशन कंपनी
लिमिटेड, एस्सार ऑयल लिमिटेड, गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया, रिलायंस पेट्रोलियम इंडस्ट्रीज, आयल एंड नेशनल
गैस कमीशन, भारत पेट्रोलियम के अलावा रिफायनरीज, प्राइवेट आयल इंडस्ट्रीज, गैस कंपनीज, आयल
एक्सप्लोरेशन ऑर्गेनाइजेशन, यूनिवर्सिटीज, पेट्रोलियम रिसर्च इंस्टीट्यूशंस में काम कर सकते हैं।

पेट्रोलियम इंजीनियर की सैलरी
इस क्षेत्र में पेट्रोलियम इंजीनियर शुरुआत से ही अच्छी पैकेज मिलने लगती है। अनुभव के आधार पर आपका पैकेज
5 लाख से 8 लाख तक हो सकता है।

petrol diesel rate 27 june 2020

पेट्रोलियम इंजीनियरिंग में उपलब्ध कोर्स

बीटेक पेट्रोलियम इंजीनियरिंग

बीई पेट्रोलियम इंजीनियरिंग

एमटेक पेट्रोलियम इंजीनियरिंग

एमई पेट्रोलियम इंजीनियरिंग

एमटेक पेट्रोलियम रिफाइनरी इंजीनियरिंग

पेट्रोलियम इंजीनियरिंग के लिए कॉलेज

इंडियन स्कूल ऑफ माइंस, धनबाद

इंस्टीट्यूट ऑफ पेट्रोलियम स्टडीज एंड केमिकल इंजीनियरिंग


महाराष्ट्र इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, पुणे

यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम स्टडीज


स्कूल ऑफ पेट्रोलियम मैनेजमेंट, गांधीनगर

राजीव गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ पेट्रोलियम टेक्नोलॉजी, रायबरेली


बीआर अंबेडकर टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending