सहजन की सब्जी खाने के हैं इतने सारे फायदे, हेल्दी रहने के लिए अपनी फूड लिस्ट में इसे जरूर करें शामिल

सहजन यानी ड्रम स्टिक के नाम से प्रचलित एक ऐसी सब्जी है जिसका सबसे ज्यादा प्रयोग सांभर बनाने में किया
जाता है। बता दें कि सहजन एक ऐसी सब्जी है जो बहुत सारे पोषक तत्वों से भरपूर होता है। स्वास्थ्य वर्धक सहजन
की सब्जी आपको जरूर खानी चाहिए। सहजन के सब्जी में विटामिन ए, बी 1 (थियामिन), बी 3 (नियासिन), बी 2
(राइबोफ्लेविन), बी 6, विटामिन-सी और फोलेट प्रचूर मात्रा में पाया जाता है। यह मैग्नीशियम, कैल्शियम, जिंक,
फास्फोरस और आयरन से भी भरपूर होता है। आइए जानते हैं, सहजन के खाने से होने वाले फायदों के बारे में…

सहजन का जूस 
यदि हम पौष्टिकता की बात करें तो यह गाजर, संतरे और यहां तक कि दूध को पीछे छोड़ते हुए यह सबसे ज्यादा
पोषण से भरपूर मानी जाती है। इसकी पत्तियों को कई तरीकों से आप अपने डाइट में शामिल कर सकते हैं। सहजन की
पत्तियों का सब्जी या जूस बनाकर पीना भी बहुत पौष्टिक माना जाता है। 

अमीनो एसिड से भरपूर
इसमें 18 तरह के अमीनो एसिड पाया जाता है। सहजन में अमीनो एसिड, प्रोटीन के निर्माण ब्लॉक मौजूद होने के
वजह से यह हमारे स्वास्थ्य को कई तरीकों से हेल्दी रखने में मदद करता है।

 
सूजन को करत है कम
सहजन एंटी इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होता है। यह सूजन सहित कई बीमारियों जैसे कैंसर, गठिया और कई
ऑटोइम्यून बीमारियों में भी रामबाण है। जब हम किसी भी चोट या संक्रमण से पीड़ित होते हैं, तो ऐसे में शरीर में
सूजन बढ़ जाती है। सहजन के सेवन करने से इसमें तुरंत राहत पाई जा सकती है।

 
एंटी-ऑक्सिडेंट से भरपूर

सहजन में एंटी-ऑक्सीडेटिव गुण पाए जाते हैं और यह पर्यावरण में मौजूद मुक्त कणों के हानिकारक प्रभावों से
बचाने का काम करता है। मुक्त कण के वजह से होने वाली क्षति टाइप 2 डायबिटीज, अल्जाइमर और हृदय की
समस्याओं जैसी कई पुरानी बीमारियों के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। जबकि सहजन विटामिन-सी और
बीटा-कैरोटीन से भरपूर होती हैं, जो कि मुक्त कणों के खिलाफ काम करने में सहयोग करता है।

ब्लड शुगर को करता है कंट्रोल
रक्त में शुगर लेवल बढ़ने से किसी भी व्यक्ति में डायबिटीज के विकास को जन्म देता है। डायबिटीज का ज्यादा
समय तक बढ़ा रहना हृदय की समस्याओं और शरीर के अन्य अंगों के क्षति का कारण बन सकती है। यदि आप इससे
बचना चाहते हैं तो ब्लड शुगर को नियंत्रण करना ही एक मात्र विकल्प है। ऐसे में सहजन की सब्जी और इसके पत्तों को
विभिन्न रूपों में प्रयोग करके ब्लड शुगर को नियंत्रित कर सकते हैं।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending