दुनिया उसी का सम्मान करती है जो खुद का सम्मान करता है इसलिए अपने अंदर पाकिस्तानियत जिंदा रखो: इमरान खान

पाकिस्तानी डॉन अखबार के तहत मिली जानकारी के अनुसार इस्लामाबाद में शॉर्ट फिल्म फेस्टिवल में एक कार्यक्रम के दौरान कंगाल पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने देश के फिल्म निर्माताओं से बॉलीवुड की नकल करने के बजाय नया और रियल कंटेट बनाने पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया है।
पाकिस्तानी संस्कृति पर हॉलीवुड और बॉलीवुड के प्रभाव का जिक्र करते हुए इमरान खान ने कहा कि, उन्हें बार-बार कहा जाता है कि लोग स्थानीय फिल्में तब तक नहीं देखते जब तक कि इसमें कमर्शियल कंटेट शामिल न हो। तो मेरी सलाह युवा फिल्म निर्माताओं को ये है कि वे ओरिजनल कंटेंट लाएं, असफलता से नहीं डरना है। यह मेरे जीवन का अनुभव है कि जो हार से डरता है वह कभी नहीं जीत सकता।

इमरान खान ने ओरिजनलिटी के महत्व पर जोर देते हुए कहा कि, “शुरुआत में गलतियां की गईं क्योंकि पाकिस्तानी फिल्म उद्योग बॉलीवुड से “प्रभावित” था, जिसके परिणामस्वरूप एक संस्कृति की नकल की गई और उसे अपनाया गया। मैं युवा फिल्म निर्माताओं से कहना चाहता हूं, वह यह है कि दुनिया के मेरे अनुभव के अनुसार, केवल ओरिजनलिटी बिकती है – कॉपी का कोई मूल्य नहीं है।” 
पाकिस्तानी पीएम ने देश की नरम छवि को बढ़ावा देने की जरूरत पर भी निशाना साधते हुए कहा, “हमारी नरम छवि हीनता और रक्षात्मकता की भावना पर आधारित थी जब पाकिस्तान को “आतंक के खिलाफ युद्ध” के दौरान गलत तरीके से पेश किया जाता था।” उन्होंने कहा, “दुनिया उसी का सम्मान करती है जो खुद का सम्मान करता है इसलिए हमे अपने अंदर पाकिस्तानियत को बढ़ावा देना चाहिए।” इमरान खान द्वारा कही गई मुख्य बातें-

>> इमरान खान ने देश के फिल्म निर्माताओं से बॉलीवुड की नकल करने के बजाय नया और रियल कंटेट बनाने पर ध्यान केंद्रित करने का आग्रह किया है।

>> खान ने कहा मेरी सलाह युवा फिल्म निर्माताओं को ये है कि वे ओरिजनल कंटेंट लाएं, असफलता से नहीं डरना है। यह मेरे जीवन का अनुभव है कि जो हार से डरता है वह कभी नहीं जीत सकता।
 >> दुनिया उसी का सम्मान करती है जो खुद का सम्मान करता है इसलिए हमे अपने अंदर पाकिस्तानियत को बढ़ावा देना चाहिए।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending