एनकाउंटर में मारे गए डॉ. मुदस्सिर गुल की पत्नी ने भारतीय सेना से मांगा सबूत, कहा – आतंकवादी थे, तो सबूत दीजिए

श्रीनगर में 15 नवंबर को हुए एनकाउंटर में भारतीय सेनाओं ने 4 आतंकवादियों को ढेर कर दिया। जिसमे से एक डॉ. मुदस्सिर गुल का नाम भी सामने आ रहा है। पुलिस का कहना है की मुदस्सिर गुल आतंकवादियों के लिए ओवरग्राउंड वर्कर का काम किया करते थे। पुलिस का दावा है कि डॉ. गुल का आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने में एक अहम योगदान हुआ करता था। हालांकि पुलिस के इन दावों को गुल के परिवार ने सिरे से खारिज कर दिया है
डॉ. मुदस्सिर गुल की पत्नी हुमैरा कहती है, “हमें इंसाफ दिलाइए। मेरी बेटी अपने बाबा को बार-बार पूछ रही है।

मेरे तीन बच्चों के साथ इंसाफ कीजिए। वह आतंकवादी नहीं थे। अगर वे आतंकवादी थे तो हमें सबूत दिखाइए। हमें उनकी बॉडी चाहिए ताकि मैं और मेरे बच्चे उनका चेहरा तो देख सकें। अगर पुलिस हमें सबूत देती है कि वो आतंकी थे, तो मुझे और मेरे बच्चों को भी मार दीजिए।”

हुमैरा ने बताया कि सोमवार सुबह उनके शौहर घर से निकले थे। शाम को उनका फोन स्विच ऑफ मिला। बाद में परिवार को बताया गया कि उन्हें एनकाउंटर में मार दिया गया है। हुमैरा रोते हुए कहती हैं, ‘दफन करने से पहले जानकारी तो देते। ये किस कानून में लिखा है? पहले हमें बताते तो कि दफन कर रहे हैं।’ बता दें जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने एनकाउंटर की जांच के आदेश दिए हैं और कहा है कि किसी के साथ नाइंसाफी नहीं की जाएगी।

फिलहाल जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों का ऑपरेशन ऑल आउट जारी है। बीते दिन बुधवार को भारतीय सेना ने 2 अलग-अलग जगहों पर एनकाउंटर में टीआरएफ कमांडर सहित 5 आतंकवादियों को ढेर कर दिया है। दोनों के दोनो ही एनकाउंटर कश्मीर के कुलगाम जिले में हुए हैं। सुरक्षाबलों ने कश्मीर पुलिस के साथ मिलकर इलाके को चारों तरफ से पूरी तरह घेर लिया है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending