न्यूयॉर्क टाइम्स ने जॉब के लिए मांगे आवेदन लिखा, सिर्फ वही लोग आवेदन करें जो हिंदू और मोदी से नफरत करता हो

अमेरिका का न्यूयॉर्क टाइम्स (NYT) न्यूजपेपर जो हिंदूफोबिक कंटेंट के कारण हमेशा विवादों से घिरे रहता है। उसने अभी हाल फिलहाल मे ही नौकरी की कुछ वैकेंसी निकाली है जिसमे उसे ऐसा व्यक्ति चाहिए जो भारत में बैठकर ही भारत को गाली देने में मदद करे। न्यूयॉर्क टाइम्स ने अपने जॉब रिक्रूटमेंट के दौरान भी खुलकर हिंदू घृणा दिखाने से परहेज नहीं किया।

चीन के चंदे पर पलने वाले न्यूयॉर्क टाइम्स ने भारतीय पत्रकारों के लिए आवेदन मांगे है। जो उसकी दुष्प्रचार का एजेंडा चलाने में पूरी मदद करे। इस अखबार ने 1 जुलाई 2021 को लिंक्डइन पर जॉब रिक्रूटमेंट पोस्ट की। ये जॉब दिल्ली में साउथ एशिया बिजनेस संवाददाता के लिए है। इसमें हायरिंग की शर्तें देख कर ऐसा लगता है जैसे बिना हिंदू विरोधी हुए या फिर एंटी मोदी हुए वहाँ जॉब पाना बेहद मुश्किल है। 

दरअसल, न्यूयॉर्क टाइम्स ने आवेदन की शर्तों मे लिखा है कि अभ्यार्थी ऐसा हो जो भारत सरकार के विरुद्ध लिख सके और सत्ता बदली की उनकी कोशिशों में अपना योगदान दे सके। वैसे तो भारत जनसंख्या के मामले में चीन को टक्कर दे रहा है, लेकिन फिर भी विश्व मंच पर बड़ी आवाज बनने की महत्वाकांक्षा रखे हुए है।

न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार, पीएम मोदी देश के हिंदुओं को सशक्त बना रहे हैं जो कि यहाँ के बहुसंस्कृतिवाद के सिद्धांतों के ख़िलाफ हैं। भारत अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का दमन करने में लगा है। न्यूयॉर्क टाइम्स की इस विवादित जॉब पोस्ट से साफ नजर आता है की उसका एजेंडा साफ है उसे पत्रकार नहीं भारत का एजेंट चाहिए। जो मोदी सरकार के खिलाफ माहौल बनाए। ऐसा व्यक्ति उसके लिए काम करे, जो भारत विरोधी दुष्प्रचार को बढ़ावा दे।

बता दें की इससे पहले भी न्यूयॉर्क टाइम्स अपने लेख में कह चुका है कि पीएम नरेंद्र मोदी से भारत की धर्मनिरपेक्ष छवि के लिए खतरा है, न्यूयॉर्क टाइम्स NRC का विरोध करता है, ये वही न्यूयॉर्क टाइम्स है, जो भारत के मिशन मंगलयान का मजाक उड़ाकर माफी मांग चुका है। इसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में चीन के ख़िलाफ़ कार्रवाई को भारत का एक ड्रामा कहा गया है जो उनके मुताबिक सीमा और राष्ट्रीय राजधानियों के भीतर चल रहा है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending