नाबालिक बच्चे ने मानवाधिकार आयोग को सुनाई अपनी आपबीती कहा, ‘मां मानसिक रूप से प्रताड़ित करती है’

राजस्थान के उदयपुर से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है जहां एक 11 साल के एक बच्चे ने राज्य के मानवाधिकार आयोग से अपनी मां की शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की है। दरअसल, इस मासूम का कहना है की उसकी मां दादा-दादी को घर की संपत्ति के लिए प्रताड़ित करती रहती है। बच्चे ने कहा है कि उसे भी मां मानसिक रूप से प्रताड़ित करती है।
बच्चे का आरोप है की उसकी मां दादा-दादी के खिलाफ अभद्र भाषा का इस्तेमाल करती है। बच्चे ने आवदेन करते हुए कहा है कि उसकी मां उनके साथ दादा-दादी के घर में नहीं रहती है, लेकिन अक्सर वहां आकर हंगामा करती है और कई बीमारियों से ग्रस्त बुजुर्गों को गालियां देती है। बच्चे ने आगे कहा, ”यह मेरे दैनिक जीवन को प्रभावित कर रहा है मेरी पढ़ाई पर बुरा असर पड़ रहा है। वह (मां) अक्सर मेरी दादी के लिए डायन जैसे अपशब्दों का इस्तेमाल करती है।” 
रोते हुए मासूम ने कहा, ”मेरी मां अक्सर मुझे कलंक और कबाड़ कहती है। उसका व्यवहार मेरी पढ़ाई और जिंदगी में अवरोध डाल रहा है।” साथ ही बच्चे ने बताया कि उसकी मां उसे गलत बातें सिखाती है। बच्चे ने मां के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending