देश को बेचने पर निकल गई है सरकार, ये आंदोलन अब नही थमेगा, आंदोलन अब खेत से क्रांति की तरफ जाएगा: राकेश टिकैत

एक निजी चैनल से संवाद के दौरान राकेश टिकैत ने सुप्रीम कोर्ट को तंज भरे अंदाज में कहा है की अगर सुप्रीम कोर्ट चाहे तो वो लोग दिल्ली के रास्ते खुलवा देंगे। उन्होंने आगे कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट को रास्ते खुलवाने चाहिए, जो पुलिस ने बैरिकेडिंग कर रखे हैं। रास्ते बंद कर रखे हैं सरकार ने। हमारा रास्ता भी क्लियर करवा दो.. हम भी आगे को बढ़ें, जनता भी आगे को बढ़े। पुलिस रोके है रास्ते तो, रास्ते किसान नहीं रोकता। 10 महीने से सरकार ने सड़क बनाकर कंक्रीट की दीवार खड़ी कर दी।’

बता दें दिल्ली के जंतर मंतर पर प्रदर्शन की मांग को लेकर किसानों ने सुप्रीम कोर्ट में एक याचिका दायर की थी। जिस पर सुप्रीम कोर्ट ने तल्ख़ टिप्पणी की करते हुए कहा था कि प्रदर्शन कर रहे किसानों ने लंबे समय से शहर का गला घोंट दिया है और अब शहर में जाकर उपद्रव करना चाहते हैं। कोर्ट ने कहा था कि प्रदर्शन के कारण दिल्ली आने जाने वाले यातायात में रुकावट आ रही है।

न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर की अगुवाई वाली पीठ ने याचिका पर सुनवाई के दौरान कहा कि प्रदर्शन के कारण व्यवसाय बंद हो गए हैं। क्या आपने प्रदर्शन के आस पास के निवासियों से कभी पूछा कि वो इस बात से खुश या नहीं? जिस के जवाब में राकेश टिकैत ने कहा कि हाईवे किसानों ने नहीं बल्कि पुलिस ने अपनी बैरिकेडिंग से जाम कर रखे हैं।

टिकैत ने आगे कहा, ‘बैरिकेडिंग को किसानों ने लगाया? अगर हम बैरिकेडिंग तोड़ें तो कहोगे तोड़ दी। हम अपने आप रास्ते खुलवा लेंगे। आप अगर कहते हो कि दिल्ली के रास्ते बंद हैं तो हम खुलवा लेंगे। अगर आप कहते हो तो बताओ हम खुलवा लें रास्ते…कुछ जनता आ जाए जिनके रास्ते रुक रहे हैं और कुछ हम हो जाएंगे और फिर चलें दिल्ली की तरफ को।’

राकेश टिकैत ने इसी बीच दोहराया कि किसान आंदोलन अभी चलेगा। उनका कहना था कि आंदोलन अब क्रांति बनेगा। वो बोले, ‘देश को बेचने पर निकल गई है सरकार, ये आंदोलन अभी चलेगा। आंदोलन अब खेत से क्रांति की तरफ जाएगा।’ बता दें किसानों के इस आन्दोलन को एक साल पूरा होने वाला है ऐसे में देखना यह है को आखिर इस आन्दोलन में पूर्ण विराम किस तरफ लगाया जायेगा।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending