कल रात को देखी गयी ईद की चाँद आज मनाया जायेगा ईद उल फितर

ईद मनाने की तारीख चांद को देखकर निश्चित होती है।  कल रात यानि 13 तारीक की रात को ईद का चांद नजर आ चुका है,  इसलिए इस साल 14 मई 2021 को यानि आज के दिन ईद मनाई जा रही है। ईद-उल-फितर पर खासतौर पर सेंवई बनाई जाती हैं। 

ईद का त्योहार मुसलमानों का सबसे बड़ा त्योहार है। रमजान का पाक महीना खत्म होने के बाद ईद-उल-फितर का त्योहार मनाया जाता है। इस दिन मस्जिदों को सजाया जाता है। लोग नए कपड़े पहनते हैं और एक-दूसरे से गले मिलकर ईद की मुबारकबाद देते हैं।इस मौके पर खुदा का शुक्रिया किया जाता है क्योंकि उन्होंने रमजाने के पूरे महीने रोजा रखने की ताकत दी। ईद पर अपनी कमाई की एक खास रकम गरीबों या जरूरतमंदों के लिए निकाली जाती है।

हालांकि, इस बार लॉकडाउन के चलते ईद की रौनक थोड़ी फीकी पड़ गई है। देशभर में कोरोना वायरस के खतरे की वजह से मस्जिदों में जाकर नमाज अदा करने पर रोक लगाई गई।

  इस साल कोरोना की वजह से देश में ईद की रौनक वैसे नहीं है जैसे हर साल रहती है। लोग ईद तो मनायेंगे लेकिन एक दूसरे के घर जा कर नहीं बल्कि खुद  अपने घरों में रह कर मनायेंगे और कोरोना ने लोगों को दूरी बनाने के लिए भी मजबूर कर दिया है तो इस बार गले मिल कर और एक दूसरे के घर जा कर नहीं बल्कि अपने अपने घरों में ईद उल फितर त्योहार का मजे ले 

ऐसे में कई मौलवियों ने अनुयायियों को अपने घरों में सुरक्षित तरीके से यह त्योहार मनाने की सलाह दी है।

मुस्लिम संगठन जमीयत उलमा-ए-हिंद के अध्यक्ष मौलाना अरशद मदनी ने भी कहा, “ मैं सभी मुस्लिमों से अपील करता हूं कि ईद की नमाज़ कोविड संबंधी सभी प्रोटोकॉल और दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए अदा करें। बड़ी संख्या में जमा न हों और बेहतर यही होगा कि घरों में नमाज़ अदा करें।”

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending