कोरोना का भयानक रूप अभी बाकी अगले महीने 3 से 4 हजार लोगों के हर रोज मरने की संभावना- महामारी रोग विशेषज्ञों ने दी जानकारी

कोरोना की दूसरी लहर ने देश को पूरी तरह से हिला दिया है भारत में कोरोना विकराल रूप धारण कर चुका है। हर रोज कोरोना केसों का नया रिकॉर्ड दर्ज हो रहा है।ऐसे में महामारी रोग विशेषज्ञों ने चौंकाने वाला खुलासा किया है।

कोरोना अब डराने लगा है ।कोरोना की लहर इतनी तेजी से फैल रहा है कि अब हर कोई डर रहा है कोरोना की दूसरी लहर काफी भयानक रूप ले चुका है।हर रोज नए मरीजों का नया रिकार्ड बन रहा है। देश में लगातार चौथे दिन दो लाख
से ज्यादा नए कोरोना केस आए हैं। पिछले 24 घंटों में 261,500 नए कोरोना केस आए और 1501 संक्रमितों कि जान चली गई । इससे पहले शुक्रवार को 234,692 नए केस आए थे. कोरोना का ऐसा रूप देख के हर किसी को लग रहा है कि कोरोना का पीक आ चुका है ऐसे में एक चौंका देने वाली खबर आई है कि कोरोना का पीक अभी बाकी है । महामारी का भयानक रूप तो अगले महीने देखने को मिलेगा।
यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन में बॉयोस्टैटिस्टिक्स और महामारी रोग विशेषज्ञ प्रोफेसर भ्रमर मुखर्जी ने एक अंग्रेजी चैनल के सवाल के जवाब में कहा कि भारत में कोरोना की स्थिति अभी और गंभीर होना बाकी है साथ ही उन्होनें कहा कि संक्रमण के मामलों का बढ़ना अभी कम नहीं होगा। भ्रमर मुखर्जी ने कहा कि यहां हर रोज 5 लाख तक नए केस निकलेंगे इसके साथ ही हर रोज तीन से चार हजार लोगों के जान गंवाने जैसी खबरें भी सुनने को मिल सकती है अभी तो इसका चरम रूप आना बाकी है। प्रोफेसरों ने लोगों को कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करने और एहतियात बरतने की अपील की साथ ही लोगों से उन्होंने कहा कि टीके लगाने के साथ-साथ मास्क, और दो गज की दूरी बनाकर
रहना होगा। 
वहीं विषाणु वैज्ञानिक डॉ. रवि ने बताया कि वैक्सीन कोई  जादूगर की छड़ी नहीं है, जो एक बार घुमाई और सब ठीक हो गया। हालांकि उन्होंने कहा कि कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना बेहद जरूरी है। साथ ही वैक्सीनेशन की भी आवश्यक है। 
ऐसे में हर किसी को कोरोना के पीक से डरने के बजाय कोरोना के प्रोटोकाल का पालन करना चाहिए और और कोरोना से खुद को बचाने के लिए लोगों से दो गज की दूरी बनानी चाहिए साथ ही मास्क अवश्य लगानी चाहिए।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending