तमिलनाडु: इंसानो के बाद अब जानवरों तक पहुंचा वायरस, चार शेर संक्रमित

इंसानों मे भारी तबाही मचाने के बाद जानवरों तक पहुंचा कोरोना वायरस तमिलनाडु (Tamil Nadu) में चार शेर कोरोना संक्रमित पाए गए। शुक्रवार को तमिलनाडु (Tamil Nadu) के वंडालूर (Vandalur) में स्थित अरिगनर अन्ना जैविक उद्यान (Arignar Anna Biological Park) में जीनोम सीक्वेंसिंग से चार शेरों के कोविड-19 से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। बता दें की कोरोना की चपेट में आए शेर वायरस के पैंगोलिन लिनियेज बी.1.617.2 प्रकार से संक्रमित थे जिसे विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) द्वारा ‘डेल्टा’ का नाम दिया गया है।
बता दें इस महीने नौ साल की शेरनी नीला और पद्मनाथन नामक 12 साल के एक शेर की कोविड-19 से मौत हो गई थी। जिसके बाद वंडालूर में स्थित अरिगनर अन्ना जैविक उद्यान ने कोरोना वायरस की जांच के लिए 24 मई को चार और 29 मई को सात शेरों के नमूने भोपाल स्थित आईसीएआर- राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान भेजे थे। संस्थान ने तीन जून को बताया कि नौ शेरों की जांच में संक्रमण पाया गया है। इसके बाद से सिंहों का उपचार किया जा रहा है।
जैविक उद्यान के उप निदेशक ने बताया कि इस साल 11 मई को डब्ल्यूएचओ ने वायरस के बी.1.617.2 प्रकार को चिंताजनक बताया था और कहा था कि यह ज्यादा संक्रामक है। उप निदेशक ने एक बयान में कहा कि जैविक उद्यान के अनुरोध पर संस्थान ने उस वायरस की ‘जीनोम सीक्वेंसिंग के नतीजे साझा किये थे जिनसे शेर संक्रमित हुए थे। बयान में कहा गया, ‘आईसीएआर-एनआईएचएसएडी के निदेशक ने बताया कि संस्थान में चारों नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग की गई। सीक्वेंस के विश्लेषण से पता चलता है कि चारों सीक्वेंस पैंगोलिन लिनिएज बी.1.617.2 प्रकार के हैं जो विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार डेल्टा प्रकार है।’ 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending