तालिबान का चेहरा फिर हुआ बेनकाब, प्रेस की स्वतंत्रता के ढोल पीटने वाला तालिबान बंदूक की नोंक पर करवा रहा खुद की तारीफ

अफगानिस्तान में बंदूक और आतंकवाद के दम पर सत्ता हासिल करने वाला तालिबान लगातार दुनियाभर में प्रेस की स्वतन्त्रता के ढोल पीट रहा है। हालांकि तालिबान का यह मुखौटा भी दुनिया के सामने आ चुका है। दरअसल सोशल मीडिया पर अफगानिस्तान का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें एक पत्रकार से बंदूक की नोक पर तालिबान की तारीफ करने को कहा जा रहा है।
https://twitter.com/AlinejadMasih/status/1432043625542819842?s=20
यह वीडियो एक ईरानी पत्रकार और एक्टिविस्ट मसीह अलीनेजादी ने अपने ट्विटर हैंडल से साझा किया है। उन्होंने लिखा है, “यह सच्चाई है। तालिबानी आतंकवादी एक डरे हुए टीवी एंकर के पीछे बंदूकों के साथ खड़े हैं और उससे कह रहे हैं कि अफगानिस्तान के लोगों को इस्लामिक साम्राज्य से नहीं डरना चाहिए।” उन्होंने आगे लिखा कि, तालिबान लाखों लोगों के मन में डर का पर्याय है। यह सिर्फ एक और सबूत है।
अफगानिस्तान में तालिबान के कब्जे के बाद से देश में अंशाति फैली हुई है। जहां अफगान के लोग अभी भी दूसरे देशों में शरण लेने के लिए मजूबर हैं। वहीं नागरिकों के साथ-साथ पत्रकारों से भी मारपीट की जा रही है। इस घटना का वीडियो वायरल होने के बाद तालिबान के स्वतंत्र प्रेस के वादे पर सवाल उठाए जा रहे हैं। 
बता दें कि अफगानिस्तान में कब्जे कर चुके तालिबान ने महिला न्यूज एंकरों को बैन कर चुका है। इससे साफ हो जाता है कि आतंकी संगठन तालिबान के राज में अब पत्रकारों को कड़े सवाल पूछने की आजादी नहीं मिल सकती है। गौरतलब हो की इससे पहले बेरोजगारी पर रिपोर्ट कर रहे टोलो न्यूज़ के पत्रकार जैर याद खान और उनके कैमरामैन के साथ भी तालिबान ने मारपीट की थी।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending