दिल्ली में बढ़ सकतें हैं स्वाइन फ्लू के मामले,  विशेषज्ञों ने चेताया

स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में स्वाइन फ्लू और वायरस संबंधी अन्य रोगों के प्रकोप बढ़ने को लेकर चेताया है। दिल्ली में स्वाइन फ्लू के मामलों में बढ़ोतरी को लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने लोगों से आग्रह किया है कि वें मास्क लगाएं और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन जरूर करें। स्वास्थ्य विशेषज्ञ कह रहे हैं कि स्वाइन फ्लू के लक्षण सामान्य सर्दी-जुकाम जैसे होते हैं जिसे लोग अक्सर शुरुआत में गंभीरता से नहीं लेते पर यह आगे चलकर काफी परेशानियां सामने लाता है। स्वाईन फ्लू के रोगी आमतौर पर गले में खराश, पेट दर्द और खांसी की समस्याओं से गुजरते हैं।

इसके बाद धीरे-धीरे उन्हें सांस लेने में भी तकलीफ होने लगती है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की मानें तो लोगों को इस समय मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना काफी जरूरी है। स्वाइन फ्लू के मामलों में बढ़ोतरी को लेकर स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने लोगों को सतर्क रहने को कहा है। इसके अलावा स्वाइन फ्लू का एक कारण कोरोना महामारी के चलते फ्लू का टीककारण बाधित होने को भी बताया जा रहा है। दरअसल जब से कोरोना महामारी सामने आई है तब से स्वाइन फ्लू के टीकाकरण की प्रक्रिया में थोड़ी बाधा दर्ज की गई है जिससे भी स्वाइन फ्लू का प्रकोप बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञों की माने तो अगस्त से सितंबर के महीने में स्वाइन फ्लू के मामलों में वृद्धि देखने को मिल सकती है। ऐसे में लोगों को मास्क पहनना और सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करना काफी आवश्यक है। वही बात अगर कोविड-19 के करें तो दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। इसको देखते हुए दिल्ली की सरकार ने दिल्ली में मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। मास्क नहीं पहने पाए जाने पर 500 रूपये का चालान फिर से काटा जा रहा है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending