अंधविश्वास: भगवान बनने के जुनून में आरी से अपना सिर काट चढ़ाई बलि, अगले जन्म में भगवान बनने का किया दावा

थाईलैंड। कहते है विश्वास अच्छी चीज़ होती है मगर वही विश्वास अगर अंधविश्वास का रूप ले लेती है तो समझ लो उस इंसान के विनाश का समय निकट आ चुका है । ऐसे ही एक अंधविश्वास के चलते थाईलैंड के एक शख्स ने भगवान बनने की चाह में अपना ही गला काट डाला। उन्होने दावा किया कि ऐसा करने से वह इंसान से भगवान बन जाएगा। इस शख्स की पहचान थम्माकरोण वंगपरीचा (Thammakorn Wangpreecha) के रूप में हुई। जो थाईलैंड के नोंग बुआ लम्फू (Nong Bua Lamphu) मंदिर में पुजारी थे। पुलिस को मंदिर से ही पुजारी की लाश मिली। दरअसल, थम्माकरोण वंगपरीचा के मन में ये बात घर कर गई थी कि अगर वो अपना सिर काट लेगा तो उसका अवतार भगवान के रूप में होगा। जिसके चलते उन्होंने ये खौफनाक कदम उठाया और आरी से अपना गला काट डाला।

थम्माकरोण वंगपरीचा (Thammakorn Wangpreecha) के परिजनों के मुताबिक़, पुजारी बीते पांच साल से अपनी बलि देने की तैयारी में लगे थे। उन्होंने कई लोगों को इसकी जानकारी दी थी सभी को लगता था वह मजाक कर रहें है। थम्माकरोण की लाश को सबसे पहले उनके भतीजे ने देखा। लाश के पास से पड़ी चिट्ठी से सारा खुलासा हुआ। उसमें ही थम्माकरोण ने लिखा कि वो बीते पांच साल से बलि देने की तैयारी कर रहा था। मौत के बाद अब वो भगवान के अवतार में जन्म लेगा। थम्माकरोण बीते 11 साल से मंदिर में पुजारी था। पुलिस ने बॉडी को कब्जे में लेकर जांच शुरू कर दी है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending