स्टडी का दावा, प्राकृतिक आवाजें मेंटल हेल्थ को ठीक रखने में करती हैं मदद

अच्छी सेहत के लिए न केवल शारीरिक रूप से हेल्दी रहना जरूरी है बल्कि मेंटली भी फिट रहना काफी महत्वपूर्ण है. तनाव में न रहने वाले इंसान लंबी उम्र जीते है, इसलिए जीवन में हमेशा हमारी कोशिश तनावमुक्त रहने की होनी चाहिए. हाल ही में हुई एक स्टडी से इस  बात का पता चला है कि सुबह – सुबह प्राकृतिक आवाजों को सुनना मानसिक स्वास्थ्य को ठीक रखने में मदद करता है. इस स्टडी में बीबीसी सीरीज़ फ़ॉरेस्ट 404 के हिस्से के रूप में 7500 से अधिक लोगों का डेटा एकत्र किया गया जिससे पता चला कि प्राकृतिक आवाजों से लोग तनावमुकत महसूस करते है और इससे लोगों की मेंटल हेल्थ काफी अच्छा रहता है.

एक्सपर्टस का कहना हैं कि लॉकडाउन ने अगर लोगों को काफी परेशान किया है पर इसने लोगों को अपने आसपास की प्राकृतिक आवाजों को फिर से ढूंढने में मदद की है. एक्सपर्टस की माने तो प्राकृतिक ध्वनियों को सुनना मेंटल हेल्थ के लिए काफी लाभदायक है. सुबह – सुबह चिड़ियों की आवाज, समुंद्र के लेहरों की आवाज, हवा के चलने की आवाज, बारिश की आवाज, कोयल की कू आदि प्राकृतिक आवाजों को सुनना हमारे मेंटल हेल्थ के लिए जरूरी है. दरअसल, वर्तमान में सभी अपनी – अपनी जिंदगी में काफी व्यस्त हो गए है. देर समय तक काम करना और दिनचर्चा में बदलाव तनाव को बढ़ा रहा है. ऐसे मे हमे जरूरत हे अच्छे मानसिक स्वास्थ्य की जो कि हमे हमारे प्रयास से ही मिल सकती है. 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending