शुभेंदु ने अपनी ही पार्टी के नेताओं पर उठाए सवाल कहा- बंगाल चुनाव में बीजेपी कुछ नेताओं के ‘अतिविश्वास’ के चलते हारी

नंदीग्राम सीट से ममता को हराने के बाद से बीजेपी में शुभेंदु अधिकारी का कद लगातार बढ़ता जा रहा है। जिससे बीजेपी के बाकी नेताओं में खासी नाराजगी देखने को भी मिल रही है। बंगाल में विधानसभा चुनावो के बाद से शुभेंदु अधिकारी ने पार्टी में अपनी एक अलग धाक बना ली है।

हाल ही में पार्टी की एक मीटिंग के दौरान पूर्वी मेदिनापुर जिले के चांदीपुर इलाके में शुभेंदु ने पिछ्ले दिनो चुनावो में हुई हार का ठीकरा भी अपनी पार्टी के नेताओं के ऊपर फोड़ दिया है।
राज्य में नेता प्रतिपक्ष शुभेंदु अधिकारी ने बयान दिया है कि बंगाल चुनाव में बीजेपी कुछ नेताओं के ‘अतिविश्वास’ यानी ओवरकॉन्फिडेंस के चलते हारी।

उन्होंने कहा कि पार्टी के कई नेताओं को यह लगने लगा था कि बीजेपी 170 से ज्यादा सीटों पर जीतने वाली है, जबकि जमीनी हकीकत पर किसी ने गौर नहीं किया। उन्होंने कहा कि अति विश्वास की वजह से ही राज्य में उभरती जमीनी स्थिति को समझने में चूक हो गई। 

2020 मे तृणमूल कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल होने वाले अधिकारी ने कहा, ‘हमने पहले दो चरणों के चुनाव में अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन हमारे कई नेता आत्मसंतुष्टि और अतिविश्वास से घिर गए। उन्होंने यह मानना शुरू कर दिया था कि बीजेपी 170-180 सीटें जीतने वाली है, लेकिन उन्होंने जमीनी कार्य नहीं किया।

इसकी कीमत चुकानी पड़ी।’ अधिकारी ने यह भी कहा कि लक्ष्य निर्धारित करने के साथ ही जमीनी स्तर पर काम करना भी जरूरी है, जिसके लिए मेहनत करनी पड़ती है। शुभेंदु अधिकारी के बयान से तिलमिलाई तृणमूल कांग्रेस प्रवक्ता कुणाल घोष ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा, ‘बीजेपी झूठी खुशी मना रही थी।

उसके कई नेताओं ने अनुमान लगाया था कि पार्टी 200 से ज्यादा सीटें जीतेगी। वह (शुभेंदु) दूसरों को गलत क्यों बता रहे हैं? क्या उन्होंने खुद बार-बार यह नहीं कहा कि उनकी पार्टी कम-से-कम 180 सीटों पर जीतेगी। असल में उन्हें बंगाल की नब्ज नहीं पता, तृणमूल को पता है।’

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending