शिवसेना ने राहुल गांधी पर कसा तंज कहा, ‘केंद्र की नीतियों का केवल ट्विटर पर करते हैं विरोध ‘

महाराष्ट्र में एक बार फिर गठबंधन की सरकार में तनाव का दौर चल पड़ा है। जहां कांग्रेस अभी से अगले विधानसभा चुनाव में अलग लड़ने की तैयारी कर रही है। तो वहीं अब शिवसेना ने कांग्रेस पर अपने मुखपत्र सामना के जरिए राहुल गांधी पर निशाना साधा है। शिवसेना ने कहा कि, मोदी सरकार के खिलाफ राहुल गांधी की जो आलोचना है, वह सिर्फ ट्विटर पर दिखाई पड़ती है।

शिवसेना ने गुरुवार को अपने मुखपत्र सामना में लिखा कि राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कार्यशैली, उनकी गलतियों की आलोचना करते हैं। लेकिन यह सब सिर्फ ट्विटर पर ही दिखाई देता है। गौरतलब हो की कोरोना काल के दौरान राहुल गांधी सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव रहे। उन्होंने अपने ट्वीट्स में केंद्र सरकार पर लगातार निशाना साधा। राहुल ने कोरोना, अर्थव्यवस्था की स्थिति पर लगातार ट्वीट किया।

इसी को लेकर शिवसेना ने उनपर निशाना साधा है। शिवसेना ने सामना मे लिखे अपने लेख में केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर आगे लिखा है की देश के हालात अच्छे नहीं हैं और स्थिति मोदी सरकार के कंट्रोल से बाहर है। शिवसेना ने सामना में आगे लिखा, “लोगों के गुस्से के बाद भी भाजपा को अपने आप पर भरोसा है कि उनकी सरकार को कोई खतरा नहीं है। इसकी वजह कमजोर और विघटित विपक्षी पार्टियां हैं। पीएम नरेंद्र मोदी के हाव-भाव पहले के मुकाबले अब बदले हुए हैं।

सामना में दावा किया गया है कि अब के हाव-भाव से साफ पता चलता है कि वह समझ गए हैं कि देश के हालात अच्छे नहीं हैं और स्थिति उनके कंट्रोल से बाहर है।” इतना ही नही शिवसेना ने शरद पवार के घर पर विपक्षी पार्टियों की मीटिंग की सराहना भी की, शिवसेना ने लिखा है कि कांग्रेस जो कि महा विकास अघाड़ी की पार्टनर भी है, उसे भी ऐसी बैठकों में शामिल किया जाना चाहिए। बता दें यह बैठक तीसरे मोर्चे की संभावना को तलाशता है, ऐसे में इसपर चर्चा के लिए यह मीटिंग हुई थी। फिलहाल इसमें कांग्रेस और शिवसेना शामिल नहीं हुई थी। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending