दूसरों के मौत को मौत न समझने वाले शहाबुद्दीन के कोरोना संक्रमण की वजह से मौत की रिपोर्ट आ रही है

एक वक्त वो भी था जब RJD का बाहुबली शहाबुद्दीन इंसानों की जान को जान नहीं समझता था। कहा जाता है कि शहाबुद्दीन की ओर तिरछी नजर करना भी मौत को बुलावा देना माना जाता था। उस वक्त बिहार में आरजेडी की सरकार थी और शहाबुद्दीन आरजेडी के बाहुबली नेता। इन सब बातों को देखते हुए पुलिस वाले शहाबुद्दीन की गिरेबां पर हाथ डालने से बच रहे थे।

अभी सुने में आ रहा कि बिहार सीवान पूर्व बाहुबाली सांसद का  कोरोना से मौत हो गया गया , पर इस बारे में आधिकारिक पुष्टि का इंतजार है। शहाबुद्दीन की पार्टी के कुछ नेताओं ने कहा कि पूर्व सांसद की मौत हो गई है, लेकिन दिल्ली के दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल और तिहाड़ जेल प्रशासन ने इसकी पुष्टि नहीं की है।  गौरतलब है कि तिहाड़ जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे शहाबुद्दीन को कोरोना संक्रमण के बाद  दीन दयाल उपाध्याय अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां कल से उनकी स्थिति गंभीर बनी हुई थी।

दिल्ली हाईकोर्ट ने कोरोना से संक्रमित होने के बाद मोहम्मद शहाबुद्दीन को चिकित्सीय निगरानी और समुचित इलाज मुहैया कराने के लिए दिल्ली सरकार तिहाड़ जेल प्रशासन को निर्देश दिया था। आज सुबह यह बात फैल गई कि शहाबुद्दीन की मौत हो गई है। मृत्यु की पुष्टि पार्टी में उनके करीबियों ने की, लेकिन उनका भी कहना है कि डॉक्टर ने अब तक मृत घोषित अब तक नहीं किया है। हालांकि, राजद के एमएलसी सुनील सिंह ने कहा कि शहाबुद्दीन अभी वेंटिलेटर पर हैं और जीवित हैं।

शहाबुद्दीन की कहानी एक बार जानोगे डर जाओगे 

सिवान:

चंदा बाबू के दो बेटों को तेजाब से नहलाकर मारा था शहाबुद्दीन ने साल 2004 में चंदा बाबू के तीन बेटों गिरीश, सतीश और राजीव का बदमाशों ने अपहरण कर लिया। बदमाशों ने गिरीश और सतीश को तेजाब से नहला कर मार दिया था। जबकि इस मामले का चश्मदीद रहे राजीव किसी तरह बदमाशों की गिरफ्त से अपनी जान बचाकर भाग निकला। बाद में राजीव भाइयों के तेजाब से हुई हत्याकांड का गवाह बना। मगर 2015 में शहर के डीएवी मोड़ पर उसकी भी गोली मार कर हत्या कर दी गई। हत्या के महज 18 दिन पहले ही राजीव की शादी हुई थी। इस घटना के बाद पूरे शहर में हड़कंप मच गया था।

शहाबुद्दीन के घर से मिले थे पाकिस्तानी हथियार

पुलिस का दावा है कि गोलीबारी थमने के बाद पुलिस जब शहाबुद्दीन के प्रतापपुर वाले घर के अंदर दाखिल हुई तो उसके होश उड़ गए। शहाबुद्दीन के घर में भारी मात्रा में पाकिस्तानी हथियार बरामद हुए थे। घर से पाकिस्तानी आर्डिनेंस कंपनी की मुहर लगी एके-47 राइफल भी बरामद हुई थी। कई ऐसे हथियार मिले जिसे केवल पाकिस्तानी सेना प्रयोग करती है। छापेमारी में इस बाहुबली नेता के घर से बहुमूल्य जेवरात और नकदी के अलावा जंगली जानवर जैसे शेर और हिरण की खाल भी बरामद हुई थी।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending