एआईसीटीई की भविष्य की योजनाएं से लेकर भारत में तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में चुनौतियों पर सत्र

नई दिल्ली। रविवार 24 अक्टूबर को सुबह 9:30 बजे भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), गुवाहाटी में मैकेनिकल इंजीनियरिंग के प्रोफेसर अनिल दत्तात्रेय सहस्रबुद्धे एक इंटरैक्टिव सत्र में नज़र आएंगे। जिसका आयोजन GIST एवं आहार क्रांति के तत्वाधान के अंतर्गत हो रहा है और भविष्य में इस तरह के कई और विषयों पर आयोजन करने की योजना है। सत्र के दौरान प्रो. अनिल दत्तात्रेय सहस्रबुद्धे एआईसीटीई की भविष्य की योजनाएं से लेकर भारत में तकनीकी शिक्षा के क्षेत्र में आगे की चुनौतियों की परिकल्पना करेंगे। साथ ही एआईसीटीई की नई स्कीम्स के बारे में अवगत कराएंगे। 

बता दें भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), गुवाहाटी में मैकेनिकल इंजीनियरिंग के प्रोफेसर अनिल दत्तात्रेय सहस्रबुद्धे कर्नाटक विश्वविद्यालय से प्रथम रैंक के साथ मैकेनिकल इंजीनियरिंग में स्नातक और स्वर्ण पदक हासिल कर चुके है। उन्होंने भारतीय विज्ञान संस्थान (आईआईएससी), बैंगलोर से मास्टर और डॉक्टरेट (यूजीसी फैलोशिप के साथ) की डिग्री प्राप्त की है।

अब तक 84 हजार से ज्यादा छात्र जुड़े

गौरतलब हो की ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन (एआईसीटीई) के प्रोफेसर अनिल दत्तात्रेय सहस्रबुद्धे ने छात्रों को अकादमिक रूप से मजबूत और कौशल क्षमता बढ़ाने के लिए स्टूडेंट लर्निंग असेसमेंट प्रोजक्ट भी शुरू किया है। इसके माध्यम से बिना परीक्षा के ही छात्रों का असेसमेंट होगा और उन्हें पता चलेगा कि उनके विषय से जुड़ी विभिन्न परीक्षाओं के लिए वे कितने तैयार हैं। 

अब तक स्टूडेंट लर्निंग असेसमेंट से 84 हजार से ज्यादा छात्र जुड़ चुके हैं। इसी के साथ करीब साढ़े पांच सौ फैकल्टी मेंबर भी इससे जुड़े हुए हैं। इसके माध्यम से इंजीनियरिंग, मैनेजमेंट, मैथ्स, फिजिक्स, केमिस्ट्री, हाई आर्डर थिंकिंग स्किल्स जैसे विषयों काे शामिल किया गया है।

जो भी व्यक्ति इस कार्यक्रम में रूचि रखता है। वो इस लिंक पर रजिस्टर कर सकता है। short link for registration : https://bit.ly/GIST_Education

More articles

- Advertisement -

ताज़ा ख़बरें

Trending