हरियाणा के सीएम एमएल खट्टर के बयान को लेकर देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाना चाहिए: नवजोत सिंह सिद्धू

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में रविवार को हुई हिंसा के खिलाफ पंजाब में राजभवन के बाहर कांग्रेस ने धरना प्रदर्शन किया। यह धरना प्रदर्शन पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके नवजोत सिंह सिद्धू के नेतृत्व में किया गया। नवजोत सिंह सिद्धू की मांग है की किसानों पर गाड़ी चलाने वालों को तुरंत गिरफ्तार किया जाए और इसके साथ ही उन्होंने कहा की हरियाणा के सीएम एमएल खट्टर के बयान के लिए देशद्रोह का मामला दर्ज किया जाना चाहिए।

वहीं दूसरी ओर पंजाब के डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा और कांग्रेस नेता कुलजीत नागरा को पार्टी के अन्य नेताओं के साथ सहारनपुर में यूपी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। वे हिंसा में जान गंवाने वाले किसानों के परिवारों से मिलने लखीमपुर खीरी जा रहे थे। इसी दौरान उन्हें हिरासत में लिया गया। बता दें की इससे पहले मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार ने पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को लखीमपुर खीरी में अपने हेलीकॉप्टर उतारने की अनुमति देने से इनकार कर दिया।

राहुल ने किया सीतापुर जाने का ऐलान, योगी सरकार ने इजाजत देने से किया इंकार…

इस बीच दोबारा माहौल बिगड़ने की आशंका के बीच प्रशासन ने लखीमपुर में एक बार फिर इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं। इसके साथ ही सीतापुर में भी इंटरनेट सेवाओं को ठप कर दिया गया है। बता दें कि कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भी सीतापुर के PAC कैंप के गेस्ट हाउस में है और अब वहां भी जैमर लगा दिया गया है। वहीं आज राहुल गांधी अपनी बहन और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी से मिलने सीतापुर जाएंगे।

वो लखनऊ पहुंचकर सीतापुर के लिए रवाना होंगे। राहुल गांधी के साथ पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत चन्नी, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और कांग्रेस के महासचिव वेणुगोपाल भी साथ जाएंगे। बता दें कि राहुल गांधी के पांच सदस्‍यीय प्रतिनिधिमंडल के साथ लखीमपुर जाने के कार्यक्रम को सरकार ने इजाजत नहीं दी है, लेकिन राहुल गांधी ने साफ कहा है कि वो सीतापुर जरूर जाएंगे।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending