गणतंत्र दिवस : 56 बच्चों को राष्ट्रीय बाल वीरता पुरस्कार से किया जाएगा सम्मानित

गणतंत्र दिवस 2023 के अवसर पर इस बार देश के 56 बच्चों को राष्ट्रीय बाल वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। कोरोना महामारी के कारण बीते दो साल में यह पुरस्कार नहीं दिया गया था। इसलिए इस बार बीते तीन वर्ष में चयनित कुल 56 बच्चों को ये पुरस्कार देने की घोषणा की गई। भारतीय बाल कल्याण परिषद की अध्यक्ष गीता सिद्धार्थ की ओर से इसकी घोषणा की गई है। पुरस्कृत बच्चे गणतंत्र दिवस समारोह में कर्त्तव्य पथ पर परेड का हिस्सा बनेंगे।
भारत अवार्ड 2020 बिहार के कैडेट अमृत राज को मृत्युपरांत दिया जा रहा है। घोषित पुरस्कार में मार्कण्डेय पुरस्कार के तहत साल 2020 के लिए मोहित चंद्र उप्रेती, साल 2021 छत्तीसगढ़ की  के लिए 16 वर्षीय अमन ज्योति जाहिरी, 2022 के लिए उत्तराखंड के नितीन सिंह को दिया गया।
भारतीय बाल कल्याण परिषद की ओर से घोषित प्रह्लाद पुरस्कार के तहत उत्तम तांती, आयुष गणेश  तपकिर, अहमद फ़ाज़ एम और मुहम्मद इरफान पी को दिया गया। वहीं, एकलव्य पुरस्कार अमनदीप कौर, एंजेल मारिया और सीताराम यादव को दिया जाएगा। अभिमन्यु पुरस्कार के लिए शानी, शानिस अब्दुल्ला टी एन और 9 वर्षीय क्रिस्टियन वंनूनज़ीर के नाम की घोषणा हुई।
इसके साथ ही श्रवण पुरस्कार के लिए पंजाब की कुसुम, महाराष्ट्र के प्रतीक सुधाकर। बता दे की आईआईसीडब्लू अब तक 1975 से 1060 अवार्ड प्रदान कर चुका है जिसमें 742 लड़के और 312 लड़कियां शामिल हैं।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending