सच में बचाता है लौंग ,अजवाइन ,कपूर और नीलगिरी की तेल की पोतली सांस लेने में तकलीफ से ?

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच आस्पताल में लोग आक्सीजन ,बेड की कमी से बहुत परेशान है ऐसे में कोरोना से बचने के लिए या जो कोरोना के मरीज है उन्हें सांस लेने में तकलीफ होने पे हर कोई यही सलाह दे रहा है कि ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने का ये घरेलू नुस्खा है जो की बहुत असरदार है।

सोशल मीडिया पर ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने का एक घरेलू नुस्खा तेजी से वायरल हो रहा है. एक पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि कपूर, लौंग, अजवाइन और नीलगिरी  के तेल की पोटली बनाकर सूंघने से ऑक्सीजन लेवल बढ़ता है।  इस वायरल पोस्ट में एक तस्वीर शेयर करके साथ में  लिखा है, ‘कपूर, लौंग, अजवाइन और नीलगिरी के तेल की कुछ बूंदें डालकर पोटली बना लें और इसे पूरे दिन सूंघते रहें। ये ऑक्सीजन लेवल बढ़ाता है  तो  इस पोतली कद हर कोई बनाएं और उसे दिन-रात (यानी लगभग हर समय) सूंघते रहें। इससे ऑक्सीजन का स्तर बढ़ाने में मदद मिलेगी।

 हैरान करने वाली बात यह है कि इस वायरल मैसेज को केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने भी अपने फेसबुक वॉल पर शेयर किया है। उसके बाद कई अन्य लोग भी इस मैसेज को खूब शेयर कर रहे हैं।मुख्तार अब्बास नकवी ने फेसबुक पर ‘सेहत की पोटली’ कैप्शन के साथ एक फोटो शेयर की है जिसमें एक पोटली में लौंग, अजवाइन कपूर की तीन पोटलियां दिख रही हैं। साथ में एक खुली पोटली दिख रही है जिसमें लौंग और अजवायन दिख रहे हैं और लिखा है   ये ऑक्सीजन लेवल बढ़ाने में मदद करता है।  
कपूर, लौंग, अजवाईन, कुछ बूंदे नीलगिरी के तेल की पोटली  लद्दाख में पर्यटकों को तब दी जाती है जब ऑक्सीजन का स्तर कम होता है। यह एक घरेलू उपाय है इसे दिन और रात भर सूंघते रहने से  ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ाने में मदद करता है ।
कुल मिलाकर कहें तो इस बात का कोई प्रमाण नहीं है कि कपूर, लौंग या अजवाइन ब्लड ऑक्सीजन को बढ़ाते हैं या फिर सांस से जुड़ी समस्या ठीक करता हैं। ये साइनस या फिर हल्के श्वसन संक्रमण में राहत देने का काम कर सकता हैं । अच्छा होगा कि इस तरह के वायरल घरेलू नुस्खों पर आंख बंद  करके भरोसा करने की बजाय आप  कोरोना में सांस लेने में तकलीफ होने पे अपने डाक्टर से बात करे ।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending