राकेश टिकैत ने दी मीनाक्षी लेखी को चेतावनी कहा- किसान को मवाली मत कहिए, हम मवाली नही अन्नदाता है

बृहस्पतिवार दोपहर बीजेपी सांसद मीनाक्षी लेखी ने प्रदर्शन कर रहे किसानों को मवाली कह डाला। जिसके कारण सोशल मीडिया पर मीनाक्षी लेखी की जमकर किरकिरी हो रही है। मामले की जानकारी होते ही राकेश टिकैत ने भी मीनाक्षी लेखी को आड़े हाथों लेते हुए कहा की हम देश के अन्नदाता है कोई मवाली नही।
दरअसल, पेगासस जासूसी को लेकर संसद में हुए हंगामे पर बीजेपी की ओर से प्रेस कॉन्फ्रेंस करने आईं मीनाक्षी लेखी ने एक सवाल के जवाब में कहा, ”सबसे पहले तो उन्हें किसान कहना बंद कीजिए, क्योंकि वे किसान नहीं है, वे षड्यंत्रकारी लोगों के हत्थे चढ़े हुए कुछ लोग हैं, जो लगातार किसानों के नाम पर ये हरकतें कर रहे हैं। किसानों के पास समय नहीं है, जंतर-मंतर आकर बैठने का, वह अपने खेत में काम कर रहा है। ये आढ़तियों के द्वारा चढ़ाए गए लोग हैं, जो चाहते नहीं कि किसानों को फायदा मिले।”
मीनाक्षी लेखी के बयान पर भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने कहा, ”मवाली वे हैं, जो कुछ नहीं करते हैं। किसानों के लिए इस तरह की बात कहना ठीक नहीं है। हम किसान हैं, मवाली नहीं। किसान अन्नदाता हैं।” 
वहीं किसान नेता शिव कुमार कक्का ने कहा, ”इस तरह का बयान 80 करोड़ किसानों का अपमान है। यदि हम मवाली हैं, मीनाक्षी लेखी को हमारे द्वारा उपजाए अनाज को खाना बंद कर देना चाहिए। उन्हें शर्म आनी चाहिए। हमने उनके बयान की आलोचना करते हुए ‘किसान संसद’ में प्रस्ताव पास किया है।”

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending