राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर साधा निशाना, कहा – पीएम का संघवाद सहयोगी नहीं

पेट्रोल और डीजल की आसामान छूती कीमतें को लेकर इन दिनों विपक्ष केंद्र की मोदी सरकार को सड़क से लेकर संसद तक घेर रही है. पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के कारण लोगों की बचत पर भी असर पड़ा है. ईंधन की कीमतों में बढ़ोतरी के लिए जहां सरकार अंतरराष्ट्रीय बाजारों में कच्चे तेल की कीमतों के अलावा कई अन्य कारण का हवाला देती है तो वहीं विपक्ष का आरोप है कि सरकार पेट्रोल डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के लिए सीदे तौर पर जिम्मेदार है. प्रधानमंत्री मोदी ने देश में कोरोना की बढ़ रही रफ्तार को लेकर कल राज्यों के मुख्यमंत्रियों के वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिये बैठक की थी. इस दौरान पेट्रोल – डीजल की कीमतों का मुद्दा भी उठा.

पीएम मोदी ने  विपक्ष शासित राज्यों से अपने यहां पेट्रोल – डीजल की बढ़ी कीमतों पर से वैट घटाकर जनता को राहत देने की अपील की थी. वहीं पीएम की इस अपील के बाद कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने केंद्र मोदी सरकार को पेट्रोल – डीजल की कीमतों में वृद्धि को लेकर घेरा है. राहुल गांधी ने ट्विट किया जिसमे उन्होंने कहा कि “ ईंधन की बढ़ती कीमतें – दोष राज्य पर, कोयले की कमी – दोष राज्य पर,  ऑक्सीजन की कमी – दोष राज्य पर. राहलु गांधी ने आगे अपने ट्विट में लिखा , सभी ईंधन टैक्स का 68 %  केंद्र लेता है फिर भी प्रधानमंत्री जिम्मेदारियों से पल्ला झाड़ते है. उन्होंने आगे लिखा मोदी का संघवाद सहयोगी नहीं है. यह जबरदस्ती हैं. 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending