राहुल गांधी ने हिंदू देवी देवताओं पर उठाए सवाल, लक्ष्मी, दुर्गा और सरस्वती को बताया शक्तिहीन

जम्मू के त्रिकुटा नगर पहुंचे कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पार्टी पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए बीजेपी और आरएसएस पर जम्मू-कश्मीर की मिलीजुली संस्कृति को खत्म करने का आरोप लगाते हुए कहा, कि दोनों संगठन लोगों के बीच प्यार और भाईचारे को खत्म कर रहे हैं। हाल ही में माता वैष्णो देवी के दरबार से लौटे कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने माता की शक्तियों पर भी उठा डाले सवाल कहा देवी लक्ष्मी, दुर्गा और सरस्वती की शक्ति कम हो गई है। 

राहुल गांधी ने कहा कि देवी दुर्गा रक्षा करने वाली ताकत की प्रतीक हैं तो देवी लक्ष्मी किसी के लक्ष्य को प्राप्त करने की शक्ति का प्रतीक हैं और देवी सरस्वती ज्ञान की शक्ति हैं। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि बीजेपी की अगुआई वाली केंद्र सरकार की नीतियों, नोटबंदी और जीएसटी ने देश में देवी लक्ष्मी की शक्ति कम कर दी है। उन्होंने यह भी दावा किया कि नए कृषि कानूनों ने देवी दुर्गा की शक्ति कम कर दी है। राहुल ने आगे कहा ”जब बीजेपी और आरएसएस के किसी व्यक्ति को शैक्षणिक संस्थाओं में नियुक्त किया जाता है तो देवी सरस्वती की शक्ति कम होती है।” 

केंद्र सरकार की आर्थिक नीतियों की आलोचना करते हुए कांग्रेस सांसद ने कहा कि देवी दुर्गा, लक्ष्मी और सरस्वती का आशीर्वाद देश पर कम हो गया है। उन्होंने कहा, ”कल मैं मंदिर (वैष्णो देवी) गया था, जहां मैंने तीन देवियों को देखा। दुर्गा जी, लक्ष्मी जी और सरस्वती जी। दुर्गा शब्द दुर्ग से बना है और देवी दुर्गा का मतलब उस शक्ति से है जो रक्षा करती है। देवी लक्ष्मी वह शक्ति हैं जो किसी को लक्ष्य प्राप्ति में मदद करती है। देवी सरस्वती शिक्षा और ज्ञान की शक्ति दिखाती हैं। जब देश में यह तीनों शक्तियां होती हैं तो देश समृद्ध होता है।”

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending