राजस्थान के ढोंगी बाबा का ढोंग, काला धागा पहनने से भागेगा कोरोना, 2,000 रुपए दो, धागा बांधो, और कोरोना गायब

एक तरफ कोरोना से पूरा देश बेहाल है। हर दिन मौत का आंकड़ा बढ़ते ही जा रहा है। सरकारें लोगो को वैक्सीन लगाने के लिए प्रोत्साहित कर रही है तो वही दूसरी तरफ ढोंगी बाबा इस कोरोना महामारी का इस्तेमाल अपने स्वार्थ पूरे करने के लिए कर रहे है। ऐसा ही एक ढोंगी राजस्थान के सीकर में कोरोना पीड़ित लोगों को बता रहा है की सालों से सर्दी, खांसी और जुकाम लोगों को हो रहे हैं। कोरोना कुछ होता ही नहीं है। उसने काला धागा दिया, कहा इसे बांध लो। कुछ पर्चियों को पानी में डाल कर पीने की सलाह दी। साथ ही कहा कि कोरोना के इलाज के लिए अस्पताल गए तो मुर्दा ही लौटना पड़ेगा।

राजस्थान के कुछ जगहों पर दर्जनों ढोंगी बाबा ऐसे है जो कोरोना का चूर्ण, पुड़िया और ताबीज दे रहे है वहीं कोई जादू-मंतर करता नजर आ रहा है। ये अजीब नुस्खे बताकर कोरोना के इलाज का दावा किया जा रहा है। सबसे बड़ी बात तो यह है कि बिना जान-पहचान के ये बाबा किसी का इलाज नहीं कर रहे हैं। पहले बात करके पूरी जांच कर लेते हैं। इसके बाद अपना इलाज शुरू करते हैं।

ढोंगी बाबा ने कोरोना की बीमारी को दूर करने का इलाज बताते हुए लोगो से कह रहा है कि,” एक बोतल पानी लेना, उसे गर्म कर लेना। गिन कर चार पर्चियां दीं और बोला कि बोतल में डाल कर एक घंटे छोड़ देना। दूसरा पानी लेना उसमें पहली बोतल से ढक्कन लेकर पानी मिला लो। अब पानी से आंखें और चेहरे पर छींटे डालना। दूसरी बोतल में आधा लीटर पानी लेना और उसमें इन पर्चियों को डालना। घर के गेट के ऊपर छिड़काव करना है। तीसरी पर्ची देकर बोला कि माता के तकिए के नीचे रख देना। काला धागा देकर कहा कि दाएं पैर में बांध देना। बाद में धागे को वापस लौटा देना। अभी दो दिन बाद में मुझे बताना। जल्द आराम मिल जाएगा।”

कोरोना के साथ सब बीमारी होगी खत्म
बाबा के अनुसार, “इस इलाज से कोरोना के साथ कोई और भी बीमारी होगी, तो वो भी खत्म हो जाएगी। मैंने काफी लोगों का इलाज किया है। अस्पताल में मत लेकर जाओ। खजूर और नमक खिलाते रहो। हल्का कुछ भी खाने को देते रहो। मां के नाम पर कुछ धर्म भी करो, पक्षियों को किलो-दो किलो दाना डाल देना। कोई बला होगी तो खत्म हो जाएगी।”

अस्पताल मत लेकर जाना, लाश मिलेगी
अस्पताल में बिल्कुल भी मत लेकर जाना, ऐसा बता रहे हैं कि दो तरह के इंजेक्शन आ रहे हैं। इंजेक्शन लगाने के बाद एक-दो दिन में मौत हो जाती है। अस्पताल का माहौल बिगड़ रहा है। हमारी बात को मानो तो मत लेकर जाना। दो दिन में आराम पड़ जाएगा। दो दिन रुको, अभी आराम पड़ जाएगा। तुमको कुछ और भी देंगे, ताबीज भी दे देंगे। दूसरे फॉर्मूले से भी इलाज कर देंगे। बस हिम्मत रखो। हमें दिखाते रहना।

बता दें कि हाल फिलहाल मे ही एक और ढोंगी बाबा पकड़ा गया है जो शराब और गोमूत्र में गंगाजल मिलाकर पक्का इलाज करने का दावा कर रहा था। यह बकायदा कोरोना से बचने के लिए काले धागे देता है। पर्चियां लिखकर देता है। कहता है, दवा कुछ नहीं ये सही है, इसे गर्म पानी में डालकर पीओ। कोराेना पास में भी नहीं फटकेगा।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending