राष्ट्रपति – उपराष्ट्रपति चुनाव :  NDA के उम्मीदवार पर निर्भर करेगा विपक्ष का रूख

आगामी राष्ट्रपति – उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर राजनीतिक पार्टियों के बीच गहमागहमी अब शुरू हो चुकी है. एक और जहां बीजेपी के नेतृत्व वाली एनडीएल में राष्ट्रपति – उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर पूरी तैयारी दिख रही है तो वहीं कांग्रेस के नेतृत्व वाला विपक्ष भी अपना संयुक्त उम्मीदवार उतार सकता है. हालांकि इस बारे में अभी बहुत कुछ साफ नहीं कहा जा सकता. ऐसा कहा जा रहा है कि विपक्ष का रूख पूरी तरह एनडीए के उम्मीदवार पर निर्भर कर सकता है. हाल ही में कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने भी इस बात को लेकर सहमति जताई है कि एनडीए के राष्ट्रपति और उपराष्ट्रपति उम्मीदवार को देखते हुए ही विपक्ष अपना रूख तया करेगा.

बात अगर इससे पहले की करे तो इससे पहले जब 2017 में राष्ट्रपति चुनाव हुए थे तो कांग्रेस के नेतृत्व वाली ओपोजिशन ने पूर्व लोकसभा स्पीकर औऱ कांग्रेस नेता मीरा कुमार को अपना राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया था तो वहीं एनडीए की तरफ से राष्ट्रपित का उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को बनाया गया था.

राष्ट्रपति के चुनाव में एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को जहां 661,278 वोट मिले थे तो वहीं कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्ष को 434,241 प्राप्त हुआ था. बात अगर वर्तमान की करे तो राष्ट्रपति – उपराष्ट्रपति पद के उम्मीदवार को लेकर न ही एनडीए और न ही कांग्रेस के नेतृत्व वाले विपक्ष की तरफ से कोई संकेत मिले है. हालांकि उपराष्ट्रपति पद को लेकर वर्तमान मे ऐसी चर्चा जोरों पर है कि एनडीए की तरफ से बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को उपराष्ट्रपित का उम्मीदवार बनाया जा सकता है. 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending