PM मोदी ने ने इंडियन टॉय फेयर – 2021 का किया उद्घाटन, कहा – खिलौनें बच्चों की जिंदगी का अहम हिस्सा

पीएम नरेंद्र मोदी ने आज वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से इंडियन टॉय फेयर – 2021 का उद्धाटन किया. आत्मनिर्भर भारत अभियान में ‘वोकल फॉर लोकल’ के तहत देश को खिलौना निर्माण का वैश्विक हब बनाने के मकसद से शिक्षा मंत्रालय, महिला व बाल विकास मंत्रालय और कपड़ा मंत्रालय मिलकर इसका आयोजन करवा रहे हैं.

पीएम मोदी ने इस दौरान कई राज्यों में खिलौना निर्माताओं और खिलौने के कारीगरों से बातचीत की और इस दौरान उनसे कई प्रश्न किए. पीएम मोदी ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए भारतीय खिलौनों  का डंका विश्वभर में बजाने के लिए सभी को मिलकर प्रयास करने की बात कही. पीएम मोदी ने कहा कि  
एक खिलौना बच्चों को खुशियों को अनंत दुनिया में ले जाता है. खिलौने का एक – एक रंग बच्चों के जीवन में कई रंग बिखेरता है.

साथ ही पीएम ने कहा कि  हम दुनिया को इंको फ्रेंडली खिलौनों की और लेकर जा सकते है क्योकि हमारे पास ट्रेडिशन भी है और टेक्नोलॉजी भी. दुनियाभर में हिंदुस्तान के खिलौनों का डंका बजाना हम सबकी जिम्मेदारी है.

images 74

मेड इन इंडिया के साथ – साथ हैंड मेंड इन इंडिया को प्रमोट करना भी जरूरी है. साथ ही पीएम ने कहा कि इंडियन टॉय फेयर – 2021 केवल एक व्यापारिक या आर्थिक कार्यक्रम भर नहीं है बल्कि ये कार्यक्रम देश की सदियों पुरानी खेल और उल्लास की संस्कृति को मजबूत करने की एक कड़ी है.  

पीएम ने साथ ही कहा कि भारत का खिलौंने से सदियों पुराना नाता है. प्राचीन काल में दुनिया के यात्री जब भारत आते थे, तो भारत में खेलों को सीखते भी थे और अपने साथ लेकर भी जाते थे.  पीएम ने कहा कि हमारे खिलौने पुन: उपयोग और पुनर्चक्रण को दर्शाते हैं जो भारतीय जीवन शैली का एक हिस्सा रहा है.

अधिकांश भारतीय खिलौने प्राकृतिक और पर्यावरण के अनुकूल सामग्री से निर्मित हैं और उनमें इस्तेमाल किए जाने वाले रंग प्राकृतिक और सुरक्षित हैं. गौरतलब है कि बच्चों के समग्र विकास  में खिलौनों के महत्व को ध्यान रखते हुए भारत सरकार खिलौना मेला 2021 का आयोजन कर रहा है. 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending