PM Kisan: जल्द ही आने वाले है आठवीं किस्त के पैसे, पश्चिम बंगाल के किसानों को भी मिलेगा इसका लाभ, अगर आप भी है इसके लाभार्थी तो ऐसे चेक करे अपना नाम

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM-Kisan) की आठवीं किस्त के पैसे किसानों के खाते में जल्द ही आने वाले हैं। पीएम किसान स्कीम का लाभ इस बार पश्चिम बंगाल के किसानों को भी मिलेगा। योजना के शुरू होने के इतने समय बाद भी पश्चिम बंगाल के किसानों को इसका लाभ नहीं मिल रहा था। बता दें कि तृणमूल प्रमुख व पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमन्त्री मोदी को चिट्ठी लिख पश्चिम बंगाल के किसानों को इस योजना का लाभ देने की बात कही है।
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना योजना की शुरुआत 24 फरवरी 2019 से हुई थी। हालांकि इसे 1 दिसंबर 2018 से प्रभावी माना गया।पहली बार 3 करोड़ 16 लाख 05 हजार 539 किसानों को दो हजार रुपए की किस्त मिली थी। अब तक इस योजना के तहत 10 करोड़ से अधिक किसान रजिस्टर्ड हो चुके है। इस दौरान केंद्र सरकार ने कुल 10 करोड़ 48 लाख 95 हजार 545 किसानों के खाते में दो हजार रुपए भेजे थे। इसके तहत प्रत्येक वर्ष किसानों 2-2 हजार रुपए की तीन किस्त में 6 हजार रुपए दिए जाते हैं।
पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव और कोरोना की दूसरी लहर के कारण आठवीं किस्त में देरी हो गई जिसके कारण करीब 10 करोड़ किसानों को इस किस्त का लंबे समय से इंतजार करना पड़ा। कृषि मंत्रालय से मिली जानकारी के मुताबिक, 8वीं किस्त के लिए काम पूरा हो चुका है। किसी भी दिन सरकार किसानों के खाते में पैसे भेजने की घोषणा कर सकती है।

प. बंगाल के किसानों को भी मिल सकता है प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना (PM-Kisan) का लाभ:

कृषि मंत्रालय के आंकड़ों के मुताबिक़, नवंबर, 2020 तक पश्चिम बंगाल के 21.79 लाख किसानों ने पीएम किसान योजना के लिए पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराया था। इन किसानों के खाते में 2-2 हजार रुपए भेजने के लिए जरूरी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि इन किसानों को इस बार पैसे मिल सकते है।
इस तरह चेक करें अपना नाम और स्टेटस:
अगर आप भी इस योजना के तहत रजिस्टर्ड हैं तो वेबसाइट पर जाकर अपना नाम चेक कर सकते हैं।अपना नाम चेक करने के लिए आपको सबसे पहले पीएम किसान सम्मान निधि की आधिकारिक वेबसाइट (pmkisan.gov.in) पर जाना होगा। इसके साथ ही यहां आपको इस बात की जानकारी भी मिल जाएगी कि आपके अकाउंट का स्टेटस क्या है।

 यहां पर दाहिने साइड में फार्मर्स कॉर्नर है। उसमें तीसरे नंबर पर बेनेफिसियरी स्टेटस का कॉर्नर है। बेनेफिसियरी स्टेटस पर क्लिक करने पर एक विंडो खुल जाएगा।
उसमें आधार नंबर, बैंक अकाउंट नंबर और मोबाइल नंबर में से कोई एक जानकारी डालकर आप गेट डेटा पर क्लिक करें। गेट डेटा पर क्लिक करते ही किसान से जुड़ी सभी जानकारी सामने आ जाएगी।
अभी तक कितना किस्त और किस तारीख को भेजा गया है, इसकी सूची वहां पर दर्ज है।
अब आपको आने वाली किस्त के कॉलम को देखना होगा। अगर इसमें वेटिंग फॉर अप्रूवल बाई स्टेट लिखा आ रहा होगा तो इसका मतलब हुआ कि आपको अभी इंतजार करना होगा। राज्य सरकार से अनुमति मिलने के बाद आपके खाते में पैसे आएंगे।
आएफटी साइन्ड बाई स्टेट गवर्नमेंट लिखा आ रहा है तो इसका मतलब हुआ कि किसान के डेटा की जांच कर ली गई है।
एफटीओ इज जेनेरेटेडे एंड पेमेंट कंफिर्मेशन इज पेंडिंग लिखा आ रहा है तो इसका मतलब हुआ कि जल्द ही आपके खाते में पैसे आ सकते हैं।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending