पेगासस को लेकर पाकिस्तान ने भारत पर लगाया बेबुनियादी आरोप कहा- भारत ने हैक किया पाक पीएम का फोन

एक तरफ जहां इजरायल की साइबर सुरक्षा कंपनी एनएसओ के स्पाईवेयर पेगासस को लेकर भारत सहित दुनिया भर में बवाल मचा हुआ है तो वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तान इस मामले में भी अपनी नाक घुसाने से बाज नहीं आया। पूरे मामले मे एक अलग ही राग छेड़ते हुए पाकिस्तान की ओर से बयान सामने आया है की भारत ने पाक पीएम इमरान खान का फोन हैक कर लिया है।

पाकिस्तान ने ना केवल भारत पर आरोप लगाया है। साथ ही इस मुद्दे को बड़े मंच पर उठाने की बात भी कही है। बता दें भारत में स्पाईवेयर पेगासस के जरिए कई पत्रकारों और चर्चित हस्तियों के फोन की जासूसी करने की बात सामने आई है। दरअसल, पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने इमरान खान के फोन की जासूसी को लेकर डॉन न्यूज को बताया, हम भारत द्वारा हैकिंग के ब्योरे का इंतजार कर रहे हैं।

उन्होंने कहा- एक बार डीटेल पता होने के बाद इस मुद्दे को उचित मंचों पर उठाया जाएगा। इससे पहले एक ट्वीट में, चौधरी ने उन रिपोर्टों पर चिंता व्यक्त की थी जिसमे कहा गया था कि भारत सरकार ने कथित रूप से पत्रकारों और राजनीतिक विरोधियों की जासूसी करने के लिए इजरायल के सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया है। गौरतलब हो की दुनिया भर मे इजरायल की किरकिरी होने के बाद पेगासस स्पाईवेयर को तैयार करने वाली कंपनी एनएसओ ने सफाई दी है।

समाचार एजेंसी एएनआई के सवालों का जवाब देते हुए एनएसओ ने कहा है कि यह एक अंतरराष्ट्रीय साजिश है। एनएसओ से जब पूछा गया कि क्या पेगासस सॉफ्टवेयर भारत सरकार या भारत सरकार से जुड़ी किसी अन्य संस्था द्वारा खरीदा गया है? इसपर जवाब मिला- हम किसी भी कस्टमर का जिक्र नहीं कर सकते, जिन देशों को हम पेगासस बेचते हैं, उनकी सूची सीक्रेट जानकारी है। 

उन्होंने आगे कहा की, हम विशिष्ट ग्राहकों के बारे में नहीं बोल सकते लेकिन इस पूरे मामले में जारी देशों की सूची पूरी तरह से गलत है, इस सूची में से कुछ तो हमारे ग्राहक भी नहीं हैं। हम केवल सरकारों और सरकार के कानून प्रवर्तन और खुफिया संगठनों को बेचते हैं। हम बिक्री से पहले और बाद में संयुक्त राष्ट्र के सभी सिद्धांतों की सदस्यता लेते हैं। किसी भी अंतरराष्ट्रीय प्रणाली का कोई दुरुपयोग नहीं होता है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending