लखीमपुर खीरी घटना पर योगी सरकार ने पीड़ित किसान परिवारों को 45 लाख रुपये और एक सरकारी नौकरी देना का किया ऐलान

उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में हुई हिंसक घटना के बाद सियासत तेज हो गई है। घटना के बाद से सभी राजनीतिक पार्टियां सक्रिय हो गई हैं। सभी पार्टियों के नेता किसानों से मुलाकात करना चाहते है। लेकिन प्रशासन ने सख्त कर रखी है। इस बीच लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में एक बड़ी खबर सामने आ रही है। दरअसल लखीमपुर मामले में किसानों और प्रशासन के बीच बात बन गई है।

योगी सरकार ने घटना में मारे गए 4 किसानों के परिवारों को सरकार 45 लाख रुपये और एक सरकारी नौकरी देना की घोषणा की है। वहीं घायलों को योगी सरकार 10-10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता देगी। इसके साथ ही हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज मामले की जांच करेंगे। यूपी के ADG (क़ानून-व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने मीडिया से बात करते हुए ये जानकारी दी हैं।

उन्होंने कहा कि, ”लखीमपुर खीरी में मारे गए 4 किसानों के परिवारों को सरकार 45 लाख रुपये और एक सरकारी नौकरी देगी। घायलों को 10 लाख रुपये दिए जाएंगे। किसानों की शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज़ की जाएगी। हाई कोर्ट के रिटायर्ड जज मामले की जांच करेंगे।” बता दें सोमवार को किसानों ने राष्‍ट्रपति राम नाथ कोविंद को चिट्ठी लिख दखल देने की मांग की थी।

इसके साथ ही किसानों ने गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को हटाने, उनके बेटे आशीष मिश्रा पर 302 के तहत हत्या का केस दर्ज करने, जांच के लिए SIT के गठन की मांग भी की थी। साथ ही उन्होंने चिट्ठी में हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर पर हिंसा भड़काने और उनको सीएम पद से हटाए जाने की मांग की थी। बता दें हिंसा के बाद से लखीमपुर में कुल मिलाकर करीब एक हजार जवान मौके पर मुस्तैद हैं।

इसके साथ ही पूरे इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। साथ ही लखीमपुर जिले में मंगलवार तक के लिए इंटरनेट सेवा भी बंद कर दी गई है। लखीमपुर में तनाव को देखते हुए प्रशासन ने मंगलवार तक के लिए जिले में इंटरनेट बंद कर दिया है। सोमवार को सिर्फ घटनास्थल के 20 किलोमीटर के दायरे में इंटरनेट बंद किया गया था। वहीं पूरे जिले में भी धारा 144 लगा दी गई है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending