अब आत्मा योजना से किसानो की आय होगी दोगुनी, जाने कैसे मिलेगा इसका लाभ

केंद्र सरकार ने किसानों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए आत्मा योजना की शुरुआत की है। इस योजना के तहत किसानों को खेती बारी के बदलते तौर तरीकों के बारे में बताया जाएगा और उनसे खेती के नए तरीको को अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। आत्मा योजना के तहत किसानों को आधुनिक खेती के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। उन्हे प्रशिक्षित किया जाएगा जिससे किसानों की आय दोगुनी हो सके।
इसके तहत किसानों को जैविक खेती के बारे में नयी-नयी चीजें बतायी जाएगी और उन्हें नये उपायों को अपनाने के लिए कहा उत्साहित किया जाएगा। दरअसल, आत्मा योजना का उद्देश्य छोटे किसानों को आत्मनिर्भर बनाना है। इस योजना के तहत किसानों को नयी तकनीकों की जानकारी और प्रशिक्षण दिया जाता है
कृषि वैज्ञानिक भी यह मानते हैं कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिए उन्हें वैज्ञानिक तरीके के खेती करनी होगी। हमारे देश में प्रति क्षेत्रफल पैदावार बेहद कम है उसे बढ़ाना होगा। इसके लिए जरूरी है कि किसानों को नयी तकनीक की जानकारी देनी होगी उन्हे तकनीक से जोड़ना होगा। क्योंकि अभी भी हमारे देश के किसान कई मायनों में पीछे हैं। कई किसान अभी भी पारंपरिक खेती ही करते हैं। 

आधुनिक खेती को मिलेगा बढ़ावा
आत्म योजना के तहत समय समय पर किसानों का प्रशिक्षण किया जाएगा। फिलहाल इस योजना को देश के 684 जिलों में लागू कर दिया गया है। इस योजना से संबंधित अधिक जानकारी के लिए किसान अपने नजदीकी कृषि विज्ञान केंद्र से संपर्क कर सकते हैं। आंकड़ों के मुताबिक योजना के तहत अब तक देश के लगभग 20 लाख किसानों को इसकी ट्रेनिंग दी जा चुकी है।
बता दें की इस योजना की मदद से किसानों और कृषि वैज्ञानिको के बीच संवाद स्थापित करना है। साथ ही किसान समूहों को एक साथ करके उनके लिए फार्मिंग स्कूल का संचालन किया जाएगा। इस तरह से किसान बेहतर उत्पादन कर पायेंगे और उनकी आय बढ़ेगी। गौरतलब है कि कम लागत में अच्छी पैदावार पाने के लिए वैज्ञानिक विधि से खेती करना जरूरी है।
योजना के तहत दलहन, तिलहन, बागवानी और अनाज की उत्पादकता को बढ़ाने के लिए किसानों को प्रशिक्षित किया जाता है। इसके अलावा किसानों को सुगंधित पौधे, नारियल काजू और बांस की खेती के बारे में बताया जाता है। इसके अलावा समय समय पर कृषि प्रदर्शनी का आयोजन किया जाता है। किसानों को एक्सपोजर विजिट के लिए ले जाया जाता है। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending