ओमिक्रोन वायरस के खतरे को टालने के लिए केंद्र द्वारा जारी की गई नई ट्रेवल एडवाइजरी

देश में कोविड 19 संक्रमण के मामले भले ही 10 हजार से कम आ रहे हो, मगर कोविड 19 के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से भारत के साथ-साथ दुनिया के अन्य देश भी काफी चिंतित है। बता दें ओमिक्रॉन वैरिएंट के खतरे को मद्देनजर रखते हुए भारत सरकार ने अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए आज से नई गाइडलाइन जारी कर दी है। नई गाइडलाइन के अनुसार, ‘एट रिस्क’ यानी की अधिक जोखिम वाले देशों से जितने भी यात्री आ रहे हैं उन्हें एयरपोर्ट पर ही कोविड-19 टेस्ट करना अनिवार्य होगा। साथ ही साथ कोविड 19 वैक्सीन की दोनों खुराक लेना है जरुरी।

नई गाइडलाइन्स की कुछ ख़ास बातें:

‘एट रिस्क’ वाले सभी देशों से यात्रा करने वाले यात्रियों को एयरपोर्ट कोविड 19 जांच कराना अनिवार्य होगा।

विदेश जा रहे सभी यात्रियों के लिए 72 घंटे पहले आरटीपी-सीआर टेस्ट रिपोर्ट दिखाना है जरूरी।

जितने भी यात्री संक्रमित पाए जाएंगे उन्हें आइसोलेट किया जाएगा और उनका सैंपल की जीनोम सीक्वेंसिंग भी किया जाएगा।

निगेटिव रिपोर्ट दिखाने वाले यात्री घर जा सके हैं मगर उन्हें एक सप्ताह के लिए क्वारंटीन होना पड़ेगा। फिर 8वें दिन एक और टेस्ट किया जाएगा व अगले 7 दिन तक उन्हें सेल्फ मॉनीटिरिंग करनी होगी।

ओमिक्रॉन के खतरे की सूची में जिन-जिन देशों का नाम नहीं है, वहां से यात्रा करने वाले यात्रियों में 5 फीसदी तक की टेस्टिंग अनिवार्य है।

राज्य को भी विदेश से आ रहे यात्रियों को निगरानी में रखने को कहा गया है, साथ ही साथ टेस्टिंग बढ़ाने और कोविड 19 हॉटस्पॉट की भी निगरानी करने को कहा गया।

बता दें कि मुंबई में कोविड 19 के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को लेकर एक बड़ी ही सनसनीखेज खबर सामने आई है बता दें कि रविवार को दक्षिण अफ्रीका से दिल्ली होते हुए मुंबई वापस लौटे एक यात्री का कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आया है। प्रशासन द्वारा उस युवक को आइसोलेट कर दिया गया है और उसके सैंपल को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेज दिया गया है ताकि यह पुष्टि की जाए कि ओमिक्रॉन वैरिएंट का खतरा है या नहीं। वहीं, ठाणे के एक वृद्धाश्रम में एक 55 साल के बुजुर्ग को कोरोना संक्रमित पाया गया है और हैरानी की बात है की सभी बुजुर्गों ने वैक्सीन की दोनों खुराकें ले ली थी।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending