मुश्किलों में घिरे एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े, अब महिला वकील ने लगाया जबरन वसूली का आरोप, शिकायत दर्ज

मुंबई पुलिस की महिला वकील सुधा द्विवेदी ने मंगलवार को एनसीबी के क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े और पांच अन्य के खिलाफ क्रूज पर मादक पदार्थ मामले में कथित रूप से जबरन वसूली के आरोप मे शिकायत दर्ज कराई। वकील सुधा द्विवेदी ने लिखित शिकायत एमआरए मार्ग पुलिस थाने और संयुक्त पुलिस आयुक्त मिलिंद भारंभे और राज्य भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के कार्यालयों में भी दी है। सुधा द्विवेदी ने समीर वानखेड़े के साथ ही प्रभाकर सैल एवं के. पी. गोसावी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

गौरतलब हो की रविवार को ड्रग्स केस में मुख्य गवाह प्रभाकर साईल ने भी एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़ पर 8 करोड़ रुपये की वसूली के आरोप लगाए हैं। प्रभाकर साईल ने बताया, “मैं 2 अक्टूबर को किरण गोस्वामी के साथ ही था, जब NCB ने रेव पार्टी पर रेड की थी। रात 10.30 बजे जब गोस्वामी के बुलाने पर मैं बोर्डिंग एरिया में पहुंचा। मैने एक केबिन में आर्यन खान और मुनमुन धमेचा को देखा। रात के 12.30 बजे किरण गोस्वामी NCB अधिकारियों के साथ आर्यन खान को सफेद रंग की इंनोवा कार में NCB ऑफिस आए।”

प्रभाकर का कहना है कि, “रात के 1 बजे किरण गोस्वामी ने मुझे NCB ऑफिस के अंदर आने के लिए कहा। मुझसे कहा कि इस मामले में मुझे गवाह बनना है। जब मैं ऊपर गया तो समीर वानखेड़े के कहने पर NCB के ही एक अधिकारी सालेकर ने 10 ब्लैंक पेपर्स पर मेरे साइन ले लिए। इसके बाद मेरे आधार कार्ड की डिटेल्स ली गई। थोड़ी देर के बाद NCB ऑफिस से 500 मीटर की दूरी पर किरण गोस्वामी, सैम डिसूज़ा नाम के शख्स से मिला। इसके थोड़ी देर के बाद गोस्वामी अपनी सफेद रंग की इनोवा कार से निकला और उसके पीछे पीछे सैम डिसूजा की कार आई।

ये दोनों कार लोअर परेल के ब्रिज के पास रुकी। जब हम जा रहे थे, तब गोस्वामी फ़ोन पर लगातार सैम डीसूज़ा से बात कर रहा था। गोस्वामी ने कहा कि तुमने 25 करोड़ का बम डाल दिया है, अब इसे 18 करोड़ रुपये में फाइनल करो। हमें 8 करोड़ रुपये समीर वानखेड़े को भी देने हैं।” प्रभाकर ने आगे कहा, “इसके थोड़ी देर के बाद एक नील रंग की मर्सिडीज कार आती है, जिसमें से पूजा डडलानी उतरती है। पूजा डडलानी, सैम डिसूज़ा और गोस्वामी मर्सिडीज़ कार में बैठकर बातें करने लग जाते है। इसके 15 मिनट के बाद सब निकल जाते है।

फिर मैं और किरण गोस्वामी मंत्रालय के पास पहुंचते है। गोस्वामी किसी से बात करता है और फिर वाशी चला जाता है। वाशी जाने के बाद किरण गोस्वामी दोबारा से ताड़देव जाने के लिए कहता है और 50 लाख रुपये वहां से कलेक्ट करने के लिए कहता है। जहां 5102 नंबर की एक सफेद रंग की कार आती है, जिसमें पैसों से भरे 2 बैग निकलते है। उन्हें लेकर मैं वाशी जाता हूं और गोस्वामी को दे देता हूं।”

प्रभाकर साईल ने कहा, “अगली शाम किरण गोस्वामी मुझे वाशी बुलाता है, पैसों से भरे बैग्स देता है और इन्हें सैम डिसूज़ा को देने को कहता है। शाम को 6.15 पर सैम डिसूज़ा मुझे होटल ट्राइडेंट बुलाता है, जहां मैं पैसों से भरे बैग्स उसे दे देता हूं। किरण गोस्वामी अब गायब है और मुझे डर लग रहा है कि NCB के जो लोग इसमें शामिल है, वो मुझे भी मार ना दें या गायब न कर दें।” बता दें प्रभाकर साईल आर्यन खान ड्रग्स केस में मुख्य गवाह है। प्रभाकर साईल 22 जुलाई 2021 से उस किरण गोस्वामी का बॉडीगार्ड है।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending