एनसीबी के अधिकारी समीर वानखेड़े ने पुलिस आयुक्त को लिखा पत्र, कहा – मेरे ऊपर ना की जाए कोई कानूनी कार्रवाई

ड्रग केस में बॉलीवुड एक्‍टर शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान की गिरफ्तारी को लेकर विवाद के केंद्र में आए एनसीबी के मुंबई क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े ने रविवार को मुंबई पुलिस आयुक्त हेमंत नागराले से संपर्क किया और अज्ञात व्यक्तियों द्वारा कथित सतर्कता संबंधी मामले में फंसाने के लिए उनके खिलाफ योजनाबद्ध कानूनी कार्रवाई किए जाने से सुरक्षा मांगी। उन्होंने पुलिस आयुक्त हेमंत नागराले को पत्र लिखकर यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया है कि, “यह सुनिश्चित करें कि मुझे गलत उद्देश्यों से फंसाने के लिए कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जाए।”

साल 2008 बैच के आईआरएस अधिकारी वानखेड़े ने अपने एक पन्ने के पत्र में कहा कि उन्हें पता चला है कि कुछ अज्ञात व्यक्ति कथित सतर्कता संबंधी मामले में फंसाने के लिए उनके खिलाफ योजनाबद्ध कानूनी कार्रवाई की योजना बना रहे हैं। एनसीबी के मुंबई क्षेत्रीय निदेशक समीर वानखेड़े ने आगे उल्लेख किया कि उप महानिदेशक (डीडीजी) मुथा अशोक जैन ने पहले ही उक्त मामले को आवश्यक कार्रवाई के लिए एनसीबी के महानिदेशक (डीजी) को भेज दिया है।

उन्होंने किसी का नाम लिए बिना दावा किया अत्यधिक सम्मानित सार्वजनिक व्यक्तियों ने उन्हें मीडिया के माध्यम से उन्हें जेल भेजने और बर्खास्तगी की धमकी जारी की है। उन्होंने पुलिस आयुक्त से यह सुनिश्चित करने का अनुरोध किया कि उन्हें गलत मंशा से फंसाने के लिए ऐसी कोई कानूनी कार्रवाई नहीं की जाए। बता दें रविवार को ड्रग्स केस मामले में मुख्य गवाह प्रभाकर ने समीर वानखेड़े से 18 करोड़ रुपए की जबरन वसूली का आरोप लगाया था।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending