लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के नाम की जल्द होगी घोषणा

बिहार की सियासत में इन दिनों बेहद गर्मागर्मी छाई हुई है। लोक जनशक्ति पार्टी (Lok Janshakti Party) दो हिस्सों में बंट कर लगभग बिखर चुकी है। पिछले कुछ दिनों से लोक जनशक्ति पार्टी (Lok Janshakti Party) पर कब्जे की लड़ाई चल रही है। पार्टी चाचा पशुपति कुमार पारस और भतीजा चिराग पासवान के बीच बंट गई है। दोनों गुटों के कार्यकर्ता सड़कों पर हैं। दिल्ली से लेकर पटना तक में दोनों गुटों के कार्यकर्ता एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप करने में जुटे हुए हैं। पशुपति पारस पार्टी में तानाशाही का आरोप लगा रहे हैं। तो चिराग पासवान चाचा पर विश्वासघात का आरोप लगा रहे हैं। ऐसे में पार्टी पर अपना अपना वर्चस्व कायम रखने के लिए पारस और चिराग गुट आमने-सामने आ चुके है। 

पशुपति पारस को लोक जनशक्ति पार्टी का संसदीय बोर्ड का नया अध्यक्ष बनने के बाद अब पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष कौन होगा इसपर से आज फैसला होना बाकी है। पारस गुट के तरफ से राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक बुलाई गई है। आज ही राष्ट्रीय अध्यक्ष का चुनाव भी होगा। शाम के बाद राष्ट्रीय अध्यक्ष की घोषणा हो सकती है। पार्टी के भीतर अंदरूनी कलह को देखते हुए चुनाव प्रभारी सूरजभान सिंह के कंकड़बाग टीवी टॉवर स्थित उनके आवास पर बैठक आयोजित की गई है। पारस गुट के मुताबिक, “कोरोना को देखते हुए कार्यकारी अध्यक्ष के आवास पर बैठक बुलाई गई है। पार्टी कार्यकर्ताओं की भीड़ इकट्ठे ना हो, इसलिए चुनाव की प्रक्रिया अलग जगह आयोजित की गई है। अगर पार्टी दफ्तर में बैठक या चुनाव प्रक्रिया की जाती तो प्रदेशभर के कार्यकर्ता और नेता शामिल हो जाते। ऐसे में कोरोना संक्रमण बढ़ने का खतरा तेज हो जाता।”

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending