संसद का मानसून सत्र समाप्त अब हंगामा करने वाले सांसदों के खिलाफ दर्ज हुई आधिकारिक शिकायत

संसद का मानसून सत्र समाप्त हो चुका है। ऐसे में खबरे आ रही है की पिछले दिनों मुद्दों की आड़ में हंगामा कर रहे सभी सांसदों के खिलाफ होगी आधिकारिक शिकायत दर्ज। इस मामले को देखने के लिए बकायदा एक समिति का गठन किया जाएगा। राज्यसभा के सभापति और केंद्रीय मंत्रियों की बैठक में तय हुआ कि एक कमेटी बनाई जाएगी और चर्चा के बाद कार्रवाई की जाएगी।

इस पूरे मामले में रविवार को भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ मंत्रियों ने दिल्ली में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू से मुलाकात की थी। जिनमे केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान, प्रह्लाद जोशी, अर्जुन राम मेघवाल, मुख्तार अब्बास नकवी और भूपेंद्र यादव और राज्यसभा में उपसभापति हरिवंश शामिल थे।

बता दें शुक्रवार को ही राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू ने मानसून सत्र के समापन के बाद मीडियाकर्मियों के एक छोटे समूह के साथ अनौपचारिक बातचीत के दौरान कहा था की सदन में विपक्ष और ट्रेजरी बेंच उनकी दो आंखों की तरह हैं और दोनों उनके लिए समान हैं।

उन्होंने आगे कहा कि वो दोनों पक्षों को समान सम्मान देते हैं और सदन के सुचारू संचालन को सक्षम बनाना दोनों पक्षों की सामूहिक जिम्मेदारी है। गौरतलब हो कि गुरुवार को राज्यसभा में विपक्षी सांसदों और मार्शलों के बीच भरी झड़प देखने को मिली थी जिसका सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया था। 

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending