ममता ने पेगासस मामले मे सुप्रीम कोर्ट से की स्वतः संज्ञान लेने की अपील, केंद्र सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस ममता बनर्जी ने बुधवार को पेगासस फोन हैकिंग विवाद के मामले मे केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा की हमारे फोन टैप किए जा रहे हैं। मैं किसी से भी बात नहीं कर सकती। आप जासूसी के लिए बहुत सारा पैसा खर्च कर रहे हैं। मैंने इससे बचने के लिए अपने फोन को प्लास्टर कर लिया है। इसी तरह से हमें केंद्र सरकार को भी ढक देना है, वरना देश बर्बाद हो जाएगा।

ममता बनर्जी ने अपने फोन के बैकसाइड में लगी टेप को दिखाते हुए कहा, “मैं शरद पवार जी, पी. चिदंबरम, दिल्ली के सीएम या ओडिशा के मुख्यमंत्री को कॉल नहीं कर सकती हूं। मेरा फोन टैप किया जा रहा है। जिसके कारण मैंने भी अपने फोन के कैमरा पर टेप लगा लिया है।”

ममता ने आगे अपना फोन दिखाया जिसके पीछे वाले हिस्से पर उन्होंने एक ब्राउन कलर की टेप चिपका रखी थी। ममता बनर्जी ने कहा कि विधानसभा चुनाव से पहले मैं अपने पार्टी नेताओं से मिल रही थी और उस समय मेरा फोन भी साथ में था। उन्होंने हर चीज को रिकॉर्ड कर लिया।

ममता बनर्जी ने आगे कहा कि- 
“चाहे दिल्ली के मुख्यमंत्री हों या फिर ओडिशा के सीएम, वह किसी से भी बात नहीं कर पा रही हैं। पेगासस खतरनाक है। वे लोगों का उत्पीड़न कर रहे हैं। कई बार मैं किसी से भी बात नहीं कर पाती। यहां तक कि मैं दिल्ली और ओडिशा के सीएम से भी बात नहीं कर पाती हूं। केंद्र सरकार इस देश को सर्विलांस स्टेट में तब्दील करना चाहती है। को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला है।

ममता बनर्जी ने बुधवार को कहा कि उन्होंने अपने फोन के कैमरे को कवर कर लिया है ताकि उसकी हैकिंग के जरिए उनकी जासूसी न की जा सके। ममता बनर्जी ने कहा, ‘हमारे फोन टैप किए जा रहे हैं। मैं किसी से भी बात नहीं कर सकती। आप जासूसी के लिए बहुत सारा पैसा खर्च कर रहे हैं। मैंने इससे बचने के लिए अपने फोन को प्लास्टर कर लिया है। इसी तरह से हमें केंद्र सरकार को भी ढक देना है, वरना देश बर्बाद हो जाएगा।

स्पाईगिरी चालू है। मंत्रियों और जजों के फोन टैप किए जा रहे हैं। इन्होंने लोकतांत्रिक ढांचे को ही तबाह कर दिया है। पेगासस ने इलेक्शन कमिशन, न्यायपालिका, मीडिया और मंत्रियों तक पर निगरानी की है। इस देश को एक लोकतांत्रिक व्यवस्था की बजाय केंद्र सरकार ने सर्विलांस स्टेट में तब्दील कर दिया है।”

ममता बनर्जी ने पेगासस जासूसी के पूरे मामले मे सुप्रीम कोर्ट से स्वत: संज्ञान लेने की अपील करते हुए कहा, कि केंद्र सरकार ने इजरायली स्पाईवेयर के जरिए लोगों की जासूसी कराने का काम किया है। ममता बनर्जी ने अपने फोन को प्लास्टर करने की बात करते हुए दिखाया भी कैसे उन्होंने फोन पर टेप लगा ली है। उन्होंने कहा, मैंने अपने फोन को प्लास्टर कर लिया है क्योंकि वह हर चीज पर नजर रख रहे हैं। भले ही वह वीडियो हो या फिर ऑडियो। यही नहीं ममता बनर्जी ने दावा किया कि वह फोन पर अपने समकक्षों से बात नहीं कर पाती हैं।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending