महाराष्ट्र में टूटा महागठबंधन, शिवसेना-एनसीपी मे दरार के बाद अब कांग्रेस ने किया अकेले चुनाव लड़ने का ऐलान

महाराष्ट्र में शिवसेना और एनसीपी मे तनातनी के बीच अब कांग्रेस ने खुद को गठबंधन से अलग कर लिया है। कांग्रेस ने स्थानीय निकाय चुनाव अकेले लड़ने का फैसला किया है। राज्य इकाई के प्रमुख नाना पटोले ने बुधवार को कहा कि, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने राज्य में पार्टी के भविष्य के लिए एक ‘मास्टर प्लान’ प्रस्तावित किया है जिसमे उन्होंने महा विकास अघाड़ी (एमवीए) के तहत गठबंधन की सरकार में होने के बावजूद अकेले ही स्थानीय चुनाव लड़ने का फैसला किया है।

नाना पटोले ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा कि कांग्रेस महाराष्ट्र स्थानीय निकाय चुनाव अकेले लड़ेगी। महाराष्ट्र कांग्रेस के लिए मेरा सपना पार्टी को नंबर एक बनाना है। राहुल गांधी ने एक मास्टर प्लान दिया है, जिस पर काम किया जाएगा। हम कांग्रेस को मजबूत करने के लिए कुछ भी करेंगे। उन्होंने कहा कि बैठक में पार्टी नेताओं ने संगठन गठन पर भी चर्चा की।

लोकसभा चुनावो में गठबंधन के साथ चुनाव लड़ने के सवाल पर नाना पटोले ने आगे कहा कि चुनाव तीन साल बाद है। इस पर पार्टी आलाकमान निर्णय लेंगे। यह बयान एमवीए सरकार के दलों के बीच चल रही दरार के बीच आया है। इससे पहले पटोले ने आरोप लगाया था कि महाराष्ट्र सरकार उनका फोन टैप कर रही है और ‘कुछ लोग’ कांग्रेस की पीठ में छुरा घोंप रहे हैं।

More articles

- Advertisement -
Web Portal Ad300x250 01

ताज़ा ख़बरें

Trending